जेएनएन, पानीपत। पति ने पत्नी को चाय बनाने के लिए कहा। पत्नी ने मना कर दिया। फिर क्या था पति गुस्से से आगबबूला हो गया। दोनोंं में झगड़ा शुरू हो गया। मामला हाथापाई तक पहुंच गया। पति ने पत्नी के गले में कपड़ा डाल दीवार से चार बार सिर टकरा दिया और बाद में गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। 

घटना 12 मई की है। आरसीआइए-2 पुलिस ने पत्नी की हत्या के आरोपित को 112 दिन बाद समालखा के रेलवे रोड से गिरफ्तार किया। उसे कोर्ट में पेश कर दो दिन की रिमांड पर लिया गया है। आरोपित वकील से मिलने आया था। उत्तर प्रदेश के बहराइच के बुढऩपुर गांव निवासी राजू मॉडल टाउन शांति नगर में रहता है। राजू ने बताया कि 12 मई को उसने पत्नी आशा को चाय बनाने के लिए कहा था, लेकिन उसने मना कर दिया। इस पर दोनों में मारपीट हो गई।

उसने पत्नी के गले में कपड़ा डाल दीवार से चार बार सिर टकरा दिया और बाद में गला घोंट दिया। पत्नी के शव को बाथरूम में डालकर कमरे को ताला लगाकर छह वर्षीय बेटे रवि और चार वर्षीय बेटी राधिका को लेकर भाग गया। वह पत्नी का मोबाइल भी साथ ले गया। बच्चों को उसने पंजाब में मां के पास छोड़ दिया था। राजू घरों में पेंट का काम करता था और आशा कोठी में झाडू-पोंछा करती थी।

पड़ोसी को चला था हत्या का पता

बाथरूम में आशा का शव पड़ा था। शव से दुर्गंध आ रही थी। 14 मई की दोपहर पड़ोसी स्वर्ण सिंह का बेटा दीपक बाथरूम में घुसा तो उसे बदबू आई। दीपक ने जंगले से झांक कर देखा तो आशा का शव पड़ा था। आशा के पिता की शिकायत पर थाना मॉडल टाउन में राजू, देवर रामपाल और पड़ोसी शेरा के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया गया था।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप