पानीपत/करनाल, जेएनएन। एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी की गला घोंटकर हत्या कर दी। उसके बाद शव निसिंग में झाड़ियों में फेंक दिया। पुलिस ने न केवल शव कब्जे में ले लिया बल्कि आरोपित पति सहित चार लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। आरोपितों में ससुरालपक्ष की दो महिलाएं भी शामिल है। फिलहाल सभी आरोपित फरार है।

सदर बाजार वासी अविनाश ने शिकायत में आरोप लगाते हुए बताया कि उसकी करीब 26 वर्षीय बहन नीरू की शादी घोघड़ीपुर पुल के पास रहने वाले शीशपाल के साथ की थी। उसकी बहन को दो बेटी छह वर्षीय भावना व तीन वर्षीय पोभी पैदा हुई, लेकिन बेटा नहीं हुआ। इसी के चलते शीशपाल उसके साथ मारपीट करता था। उन्होंने करनाल का अपना मकान भी करीब छह साल पहले बेच दिया और निसिंग में शाम्भली रोड पर एक प्लाट खरीद उसमें मकान बना लिया। इस मकान में नीरू अपने पति के साथ एक साल ही रही, फिर मारपीट के चलते वह उनके पास करनाल में रहने लगी। शीशपाल भी उससे अलग रहने लगा।

शुक्रवार को शीशपाल उनके घर नीरू से मिलने आया और दोनों निसिंग के किराए पर दिए अपने मकान का किराया लेने के लिए बस में सवार होकर गए थे। देर रात तक भी नीरू वापस नहीं लौटी तो करीब साढ़े नौ बजे उन्हें उसका शव निसिंग में झाड़ियों के बीच मिलने की सूचना मिली, जिसके गले पर दुप्पटा बंधा था। अविनाश ने आरोप लगाए कि शीशपाल ने ही बल्ली व अपने परिवार की दो महिलाओं के साथ मिलकर गला घोंट कर नीरू की हत्या की है। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए मोर्चरी हाउस भेजा।

तीसरी मंजिल से कूद गया था शीशपाल

अविनाश ने बताया कि शीशपाल जब भी नीरू के पास आता था तो मारपीट कर चला जाता था। करीब चार माह पहले भी वह घर आकर मारपीट करने लगा था, जिसका नीरू ने विरोध किया तो वह तीसरी मंजिल से कूद गया था, जिससे उसकी टांग भी टूट गई थी।

मामले की जांच जारी : रामफल

निसिंग एसएचओ रामफल ने बताया कि आरोपितों पर हत्या के आरोप में केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। उन्हें जल्द काबू कर लिया जाएगा।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Anurag Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस