पानीपत/यमुनानगर, जेएनएन। चार माह पूर्व खुलवाए गए नाले को बंद करा दिया गया। जिससे बरसाती पानी के अलावा आसपास गांवों के पानी से किसानों की फसल जलमग्न हो गई। परेशान किसानों ने एसडीएम बिलासपुर नवीन आहुजा को गुहार लगाई। ग्रामीणों का कहना था कि पानी निकासी न होने की वजह से यहां पर दिक्कत है। यदि कोई इंतजाम नहीं किया गया, तो बरसात में और अधिक परेशानी बढ़ेगी। 

एसडीएम के निर्देश पर नायब तहसीलदार भारत भूषण, मार्केटिंग बोर्ड के एक्सईएन अतुल गर्ग व ग्राम सचिव ब्रह्प्रकाश मौके पर निरीक्षण करने पहुंचे। यहां ग्रामीणों ने उन्हें खेतों में भरा पानी दिखाया। किसान उज्ज्वल सिंह , अमरदीप, बलविंद्र सिंह, हरनाम सिंह, रूपेंद्र सिंह, सतपाल राणा, गौरा चहल व परमिंद्र सिंह ने बताया कि मार्केटिंग बोर्ड ने इस नाले की निकासी को बाधित कर दिया है। बरसात के पानी की निकासी न होने से यह पानी ओवरफ्लो होकर साथ लगते खेतों में फैल गया है। इससे फसल खराब हो रही है। ओवरफ्लो पानी सड़क पर भी फैल रहा है। अधिकारियों के सामने ही किसानों ने आरोप लगाया कि बरसाती मौसम की शुरुआत होने से पूर्व ही प्रभावशाली लोगों के दबाव में पानी की निकासी को रोक दिया गया। 

एसडीएम बिलासपुर नवीन आहुजा ने बताया कि मौके पर अधिकारियों को भेजा गया है। उनसे रिपोर्ट लेकर कार्रवाई की जाएगी। जो भी दिक्कत है। उसे दूर कराया जाएगा। 

Posted By: Anurag Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस