करनाल, जागरण संवाददाता। हरियाणा में बरसात का सिलसिला चल रहा है। शनिवार अल सुबह से ही रूक-रूककर बरसात हो रही है। कहीं तेज तो कहीं पर बूंदाबंदी चल रही है। हरियाणा पिछले 10 दिन से ठंड और कोहरे की चपेट में है। शुक्रवार रात घना कोहरा छाया रहा, लेकिन अल सुबह जब बरसात शुरू हुई तो कोहरा साफ हो गया। लगातार कोहरे वाली सुबह आम नहीं है। जबकि दिसंबर 2021 के उत्तरार्ध में शीतलहर की स्थिति का बोलबाला था, जनवरी 2022 में ठंड के दिनों की लंबी अवधि थी।

दिसंबर की दूसरी छमाही में 4 शीत लहर के दिन देखे गए, जिसमें न्यूनतम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस या उससे कम था, और 20 दिसंबर 2021 को न्यूनतम 3.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। जनवरी 2022 के महीने में पारा का एक भी दिन 4.6 डिग्री सेल्सियस या उससे नीचे नहीं गया है। इसके विपरीत, अब तक के महीने में अधिकतम तापमान 14 डिग्री सेल्सियस या उससे कम के साथ 7 दिनों का रहा है।

दिन के तापमान में आई है गिरावट, रात के तापमान में भी बदलाव

10 जनवरी के बाद हाई टीन्स में पहुंचने के बाद दिन के तापमान में कल मामूली गिरावट आई। पारा में तेज उछाल के साथ मौसम की स्थिति में महत्वपूर्ण बदलाव स्पष्ट दिख रहा है। डाईरनल वैरिएशन कम होने की संभावना है, न्यूनतम इंचिंग दोहरे अंक की ओर और अधिकतम मध्य टीन्स में होने की उम्मीद है। लगभग 4 दिनों तक शहर और आसपास के क्षेत्रों में बादल छाए रहने, हवा वाले दिन, सर्दियों की बौछारों के साथ रुकने की संभावना है।

दो दिन तक बरसात का सिलसिला ऐसे ही जारी रहने की संभावना

मौसम विभाग के मुताबिक पहाड़ों पर एक सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ और उत्तर भारत के मैदानी इलाकों पर इसके प्रेरित चक्रवाती परिसंचरण, हरियाणा, पंजाब सहित बड़े हिस्सों में मौसम की गतिविधियों को गति प्रदान करने जा रहा है। 24 जनवरी तक हरियाणा, पंजाब्र दिल्ली व एनसीआर आसपास के इलाकों में बरसात होने की संभावना है। देर शाम या आज रात को घने बादल छाए रहने की संभावना है। देर रात या शनिवार को भी ऐसे ही हालात बने रह सकते हैं। 23 जनवरी को पूरा सप्ताहांत रुक-रुक कर होने वाली बरसात और गरज की संभावना है, जो दोनों दिनों में अक्सर हो सकता है।

Edited By: Rajesh Kumar