समालखा (पानीपत), जागरण संवाददाता। नगरपालिका समालखा में सीएम फ्लाइंग करनाल व विजिलेंस की टीम ने दस्तक दी। इससे अधिकारियों व कर्मचारियों में हड़कंप मच गया। हाजिरी रजिस्टर चैक करने के साथ सफाई आदि कार्य से संबंधित टेंडरों के पुराने रिकार्ड को खंगालने का काम शुरू हुआ।

टीम ने कार्यालय में काम करने वाले सभी अधिकारी व कर्मियों के कामकाज से संबंधित ब्योरा जुटाने के साथ उनके लेट लतीफी तक को नोट किया। वहीं नपा कार्यालय में सीएम फ्लाइंग की छापेमारी का मामला कस्बे में भी दिन भर चर्चा में रहा। लोग कर्मियों के कामकाज पर सवाल उठाते हुए हर मामले की जांच की मांग करते दिखे।

ऐसे चलती रही कार्रवाई

सुबह नौ बजे के करीब सीएम फ्लाइंग की टीम एसआइ राज सिंह के नेतृत्व में नपा कार्यालय पहुंची। दो कर्मियों को गेट पर बैठा दिया गया। उन्होंने आने वाले अधिकारी व कर्मचारियों का नाम, पद व समय नोट किया। जबकि अन्य टीम में शामिल लोग कार्यालय के अंदर डटे रहे।

पुराने रिकार्ड खंगाले

टीम का नेतृत्व कर रहे एसआइ राज सिंह के अलावा एएसआइ रमेश कुमार, एएसआइ राजकुमार, एएसआइ अनुराग व स्टेट विजिलेंस से एसआइ जगबीर सिंह ने कार्यालय में कर्मियों से विभिन्न कामों का पुराना रिकार्ड निकलवाया। रिकार्ड निकाल गैलरी में फाइलें रखी गई। एनडीसी, प्रापर्टी आइडी, हाउस टैक्स संबंधित फाइलों की भी जांच की गई। वहीं टीम की छापेमारी से इधर उधर घूमकर टाइम पास करने वाले कर्मचारी भी अपनी कुर्सी पर दिन भर डटे रहे।

वर्ष 2009 व 2010 का रिकार्ड हासिल किया

सीएम फ्लाइंग व विजिलेंस की संयुक्त टीम के निशाने पर पुराने काम रहे। टीम ने वर्ष 2009 व 2010 के टेंडर रिकार्ड को हासिल कर जांच पड़ताल की। एसआइ राज सिंह ने बताया कि पुराने कामों संबंधित रिकार्ड को निकलवा जांचा जा रहा है। उन्होंने कहा कि पूरा रिकार्ड मिलने तक जांच चलती रहेगी। जो फाइल मिलेगी, उसकी गहनता से जांच होगी। चाहे वो किसी काम से संबंधित हो। हालांकि टीम का फोकस सफाई संबंधित टेंडरों पर ज्यादा दिखा।

पहले भी हो चुकी है कामों की जांच

नपा कार्यालय में अधिकारियों के कामकाज पर सवाल यहां उठते रहे हैं। निर्माणधीन रेलवे पार्क व पंजाबी धर्मशाला के काम में भी ठेकेदार को काम से ज्यादा पेमेंट करने की शिकायत के बाद सीएम फ्लाइंग ने दोनों कामों की जांच की थी। जांच पूरी होने के बाद सीएम फ्लाइंग की ओर से रिपोर्ट भी सौंपी जा चुकी है। हालांकि मामले में आज तक किसी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

नपा सचिव भी पहुंचे

गन्नौर नपा सचिव प्रदीप कुमार के पास यहां का अतिरिक्त चार्ज है। वो समालखा नपा कार्यालय में सुबह नहीं पहुंचे थे। ऐसे में टीम ने उनकी रजिस्टर में गैर हाजिरी लगा दी थी जो बाद में सीएम फ्लाइंग की कार्रवाई का पता लगने पर पहुंचे। वहीं जेई जहां छुट्टे पर थे, वहीं एमई गुरुग्राम में दो दिन के कोर्स पर गए हैं। जांच के चलते नपा सचिव व अन्य कर्मी भी रात तक कार्यालय में ही डटे रहे।

Edited By: Anurag Shukla

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट