पानीपत, [विजय गाहल्याण]। उत्तर प्रदेश की चित्रकूट जेल में गैंगवार में कुख्यात अपराधी शामली के जहानपुर गांव का मुकीम काला मारा गया। पानीपत में बाइक चोरी की वारदात के बाद गैंगस्टर बना। इससे पहले वह उप्र के ही कागा गैंग के साथ था। वर्ष 2007 में मुकीम को थाना चांदनी बाग क्षेत्र में बाइक चोरी करने पर एसआइ छबील सिंह ने गिरफ्तार किया था। जेल से छूटकर आया तो उसने गैंग बनाना शुरू कर दिया। हत्या, लूट और डकैती की वारदात करके पानीपत को दहला दिया था।

17 अगस्त, 2009 को गैंग के शार्प शूटर महताब उर्फ काना, इजराइल, इंसार, रफे खां ने नवादा के शहनाज से हथियार के बल पर बाइक और 12 हजार रुपये लूटे। चार दिन बाद 21 अगस्त को गढ़ी बेसिक के अफसर की राणा माजरा गांव के पास गोली मारकर नकदी लूट ली थी। इस गैंग ने 15 फरवरी 2015 को सहारनपुर के तनिष्क ज्वैलर्स शोरूम से 12 करोड़ रुपये के जेवर लूटे।

इसके बाद से गैंग के बदमाशों की उल्टी गिनती शुरू हो गई। 25 मार्च को पानीपत की क्राइम इन्वेस्टिगेशन एजेंसी-1 (सीआइए) ने शार्प शूटर महताब उर्फ काना को मुठभेड़ में गिरफ्तार किया। मुकीम के इशारे पर शातिर काना रंगदारी न देने वाले व्यापारियों को गोली मार देता था। काना को कड़ी बनाकर पुलिस ने ज्वैलर्स शोरूम में डकैती में इस्तेमाल बोलेरो गाड़ी बरामद की। इसके बाद पुलिस ने मुठभेड़ में गिरोह के कुख्यात बदमाश शहजान उर्फ रिहान, जहूर उर्फ पप्पन, इसरार उर्फ डाक्टर और रफे खां को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से पिस्टल, राइफल, चार तमंचे और 100 से ज्यादा गोलियां बरामद की। बदमाशों की गिरफ्तारी से मुकीम गैंग की कमर टूट गई थी।

गैंग के बदमाशों ने पानीपत को बना रखा था पनाहगाह

मुकीम गैंग के बदमाश उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, राजस्थान और अन्य कई प्रदेश में लूट व डकैती की वारदात करके पानीपत की बाहरी कालोनियों में छिप जाते थे। यहां उन्होंने किराये के कमरों में पनाह ले रखी थी। इसरार और उसके तीन साथी नूरवाला की गीता कालोनी में तीन महीने तक रहे। इसी तरह से महताब और पप्पन भी पानीपत में फरारी काट चुके थे।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें


यह भी पढ़ें: क्रिकेटर शिखर धवन दोस्‍त की कोरोना संक्रमित मां की मदद को आगे आए, सोनू सूद को किया ट्वीट


यह भी पढ़ें: चौंकाने वाला कारनामा, शादी के 24 घंटे बाद दुल्हन फरार, दूल्‍हा ससुराल पहुंचा तो हुई पिटाई

 

 यह भी पढ़ें: ममता शर्मसार, 3 दिन की नवजात को अस्पताल के बाथरूम में छोड़ गई महिला, सीसीटीवी में कैद

 

यह भी पढ़ें: करनाल के कल्‍पना चावला अस्‍पताल में ब्‍लैक फंगस के दो आशंकित मरीज मिले, मचा हड़कंप