जागरण संवाददाता, यमुनानगर। गांव मांडखेड़ी के किसान द्वारा एसबीआइ में कराई गई एपडी से किसी ने चार लाख 11881 रुपये निकाल लिए। पीड़ित ने रुपये निकालने का आरोप बैंक के मैनेजर पर लगाया है। थाना छछरौली पुलिस ने मैनेजर पर केस दर्ज कर लिया है।

गांव मांडखेड़ी के किसान कुलदीप सिंह ने थाना छछरौली पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसने भारतीय स्टेट बैंक छछरौली की ब्रांच में चार लाख रुपये की एफडी करवाई थी। इसके अलावा खाते में 11881 रुपये पहले से जमा थे। रविवार शाम करीब साढ़े तीन बजे उसके मोबाइल पर थोड़ी-थोड़ी देर बाद 10 मैसेज आए। मैसेज देख कर वह हैरान रह गया। उसके खाते से 411881 रुपये निकल चुके थे। यह देखते ही वह हैरान रह गया। रविवार होने के कारण बैंक में छुट्टी थी। सोमवार सुबह होते ही वह बैंक में गया। इस बारे में बैंक मैनेजर व अन्य कर्मचारियों से बात की परंतु कोई भी संतोषजनक जवाब नहीं दे पाया।

बैंक मैनेज पर इस वजह से जताया शक

कुलदीप सिंह ने आरोप लगाया कि उसकी एफडी से रुपये बैंक मैनेजर ने निकाले हैं। उन पर शक इसलिए है क्योंकि मैनेजर ने करीब ढाई-तीन माह पहले खुद ही उसके मोबाइल में एसबीआइ की एप डाउनलोड की थी। इस एप का पासवर्ड भी मैनेजर ने ही लगाया था। उसका पासवर्ड उसके एक कागज पर लिख कर दिया था। साथ ही उसे यह भी कहा था कि अब उसे छोटे-छोटे कार्य के लिए बैंक में आने की जरूरत नहीं है। क्योंकि उसकी एप की आइडी व पासवर्ड मैनेजर को पता था। इसलिए उन्होंने ही रुपये निकाले हैं। इसकी शिकायत उसने थाने में दी।

मैनेजर की भूमिका मिली तो होगी कार्रवाई

मामले की जांच कर रहे सब इंस्पेक्टर ज्ञानचंद ने बताया कि एसबीआइ मैनेजर रवि गुप्ता के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज कर लिया है। जांच में यदि मैनेजर की भूमिका पाई गई तो कार्रवाई की जाएगी।

यह ऑनलाइन ठगी का मामला है : रवि गुप्ता

उधर, इस बारे में बैंक मैनेजर का कहना है कि ऑनलाइन ठगी का मामला है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। इस बारे में बैंक के हेड आफिस में भी बात हुई है। कुलदीप सिंह के मोबाइल पर जरूर ओटीपी आया होगा। बिना ओटीपी रुपये नहीं निकल सकते।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Edited By: Umesh Kdhyani