जेएनएन, कुरुक्षेत्र। कुरुक्षेत्र के हरगोविंद नगर निवासी चार साल के हितेन कौशिक को कई देवी-देवताओं के पूजन मंत्रों के साथ-साथ करीब 70 देशों की राजधानियों के नाम याद हैं। हितेन के सामनेे किसी भी देश का नाम लेते ही वह तुरंंत उसकी राजधानी का नाम बता देता है। इतना ही नहीं देश के सभी राज्यों और मुख्यमंत्रियों के नाम भी हितेन को याद हैं।

छोटे बच्चे हितेन की इस प्रतिभा को अनदेखा करने वाले उसके पिता पंकज कौशिक ने भी इस ओर ध्यान देना शुरू कर दिया है। उसकी प्रतिभा को देखते हुए पंकज कौशिक अब हितेन की हर सवाल को जवाब देकर उसकी जिज्ञासा को शांत करने का प्रयास करते हैं।

हितेन के पिता दिल्ली में गवर्नमेंट सीनियर सेकेंडरी स्कूल, कमला मार्केट में अतिथि अध्यापक हैं। उसके दादा रामदेव शास्त्री सेवानिवृत्त संस्कृत अध्यापक हैं। हितेन ने बताया कि वह हर रोज सुबह अपने दादा को पूजन करते हुए देखता है।

हितेन ने अपने दादा से ही विष्णु मंत्र, गणेश मंत्र और कई आरती सीखी हैं। पंकज कौशिक ने बताया कि हितेन योग और प्राणायाम भी बेहतर ढंग से करता है। हितेन को सौरमंडल के ग्रहों की भी जानकारी है। उसे ग्रहों के नाम के साथ-साथ नदियों, पर्वतों और भारत के पड़ोसी देशों के भी नाम याद हैं।

गृहणी मां रखती हैं ख्याल

हितेन की मां प्रीति कौशिक एक गृहणी हैं। उन्होंने अभी तक हितेन को किसी स्कूल में भेजना शुरू नहीं किया है। उसकी मां प्रीति कौशिक घर पर हितेन को पढ़ा भी रही है। घर पर पढ़ाई के दौरान हितेन बहुत जल्द अपने काम का पूरा कर लेता है। उसे हर रोज सामान्य ज्ञान की नई जानकारी देते हैं तो वह उसे भी आसानी से याद कर लेता है। इन सभी बातों को वह मस्ती-मस्ती में ही याद कर लेता है। 

यह भी पढ़ें : हरियाणा में है अदभुत परंपरा, 40 दिन का व्रत, अष्टमी से दशहरे तक ‘हनुमत स्वरूप’ के दर्शन कर धन्य हो उठते हैं श्रद्धालु

यह भी पढ़ें : पंजाब में धान खरीद में बड़े घोटाले की आशंका, लेन-देन की Whatsapp chat वायरल, DM निलंबित

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस