जागरण संवाददाता, पानीपत : शहर के प्रमुख कालेजों में से एक आइबी पीजी कालेज की स्थापना वर्ष 1956 में हुई थी। आज ट्रेडिशनल और प्रोफेशनल के विभिन्न कोर्स में 3000 से अधिक विद्यार्थी शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं। शिक्षा के साथ विद्यार्थियों को उनकी रूचि के अनुसार अन्य गतिविधियों में भी प्रतिभा दिखाने का पूरा अवसर प्रदान किया जाता है।

आइबी पीजी कालेज के प्राचार्य डॉ. अजय कुमार गर्ग ने जागरण को बताया कि वर्तमान में कालेज में 126 से अधिक शिक्षण स्टाफ और 90 से अधिक गैर-शिक्षण स्टाफ सदस्यों के साथ विद्यार्थियों की संख्या 3000 से अधिक है। कालेज कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय, कुरुक्षेत्र से संबद्ध है और यूजीसी से मान्यता प्राप्त है। मुख्य रूप से कला, विज्ञान और वाणिज्य की संकाय हैं। संस्थान का जोर छात्रों के सर्वांगीण विकास पर है। नए और आधुनिक विज्ञान ब्लॉक का निर्माण जोरों पर है। सुरक्षा जरूरतों को पूरा करने के लिए परिसर सीसीटीवी सक्षम है। विभिन्न विभागों में विभागीय पुस्तकालयों के अलावा, बैठने की व्यवस्था और पुस्तकों, पत्रिकाओं व पत्रिकाओं के समृद्ध संग्रह के साथ एक विशाल और संग्रहित केंद्रीय पुस्तकालय है। पुस्तकालय पूरी तरह से स्वचालित है और वेब-ओपैक सुविधा उपलब्ध हैं। कोर्सवार सीटों की संख्या

बीए : 400

बीए ऑनर्स इंग्लिश : 60

बीकॉम : 160

बीकॉम सेल्फ फाइनेंस : 330

बीएससी नॉन मेडिकल : 240

बीएससी मेडिकल : 50

बीएससी बायो टेक्निकल : 50

बीबीए : 130

बीसीए : 90

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस