जागरण संवाददाता, पानीपत: बिजली निगम में लाखों के बिल का बड़ा खेल सामने आया है। आरोप है कि निगम के जेई और एडीए स्तर के अधिकारियों ने एक व्यक्ति से मिलकर लाखों के बिजली के बिल की हेराफेरी की। उपभोक्ता ने भी मीटर चोरी होने का मुकदमा तक दर्ज करा दिया। फिर उन्हीं अधिकारियों के साथ सांठगांठ कर दूसरा मीटर लगा लिया। आरोप है कि पहले मकान के लिए एक किलोवाट का मीटर था। अब तीन किलोवाट का कनेक्शन लिया है। इस मकान में पावरलूम चलाई जा रही है।

नार्थ इंडिया एंटी करप्शन एंड क्राइम प्रिवेंशन आर्गेनाइजेशन ने रविवार को बिश्नस्वरूप कॉलोनी स्थित एक होटल में मीडिया से रूबरू होकर पूरे मामले से पर्दा उठाया। आर्गेनाइजेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक ने बताया कि सोनीपत निवासी एक व्यक्ति की जाटल रोड पर मकान में पावरलूम फैक्ट्री है। उक्त व्यक्ति ने मकान दिखाकर बिजली निगम से कनेक्शन लिया। उसका बिल करीब 70 लाख तक पहुंच गया। उसने मीटर चोरी दिखाकर दूसरा मीटर लगवा लिया। बिजली निगम के जेई और एडीए ने उसका पूरा सहयोग किया। इससे बिजली निगम को लाखों की चपत लगी। उन्होंने सीएम विडो पर भी इसकी शिकायत दी है। इस मौके पर वरिष्ठ उप प्रधान महंत श्रीनारायण पुरी, उप प्रधान जगजीत सिंह, महासचिव वेदपाल और राज सिंह मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस