जागरण संवाददाता, पानीपत, मतलौडा : श्रमिक का अपहरण कर जान से मारने की नीयत से मारपीट करने के आठवें आरोपित जींद के करसिधू गांव के अनिल उर्फ मोनू को स्पेशल इनवेस्टिगेशन एजेंसी ( सीआइए-टू) ने गिरफ्तार किया। आरोपित अनिल के कब्जे से पुलिस ने वारदात में इस्तेमाल डंडा बरामद कर अदालत में पेश किया, जहां से जेल भेज दिया गया। इस मामले में पहले सात आरोपितों को काबू कर चुकी है।

इससे पहले प्रारंभिक पूछताछ में आरोपित अनिल ने बताया कि दरियापुर के संजीव ने शराब का ठेका ले रखा है। दरियापुर में सूरजभान नामक व्यक्ति अवैध शराब बेचता है। इससे संजीव को नुकसान हो रहा था। इसलिए उन्होंने सूरजभान को पीटने की साजिश रची। 25 फरवरी को वे सूरजभान का बोलेरो गाड़ी से अपहरण करके ले गए और डंडों से मारपीट कर कई घंटे तक ईट-भट्टे पर रखा। पिटाई से सूरजभान बेहोश हो गया तो उसको कवि गांव के जंगल में फेंककर भाग गए। मजदूरी करने वाले पीड़ित सूरजभान की शिकायत पर मतलौडा थाना पुलिस ने हत्या के प्रयास सहित कई धाराओं के तहत मामला दर्ज है।

मोबाइल झपटमार शिवम और उसके दो नाबालिग साथी गिरफ्तार

जासं, पानीपत: मोबाइल फोन छीनने के आरोपित अशोक विहार कालोनी के शिवम को सोमवार शाम को गिरफ्तार किया। वहीं शिवम के दो नाबालिग दोस्तों को बलजीत नगर से काबू किया गया। तीनों आरोपितों से वारदात में इस्तेमाल बाइक व छीना गया मोबाइल फोन बरामद कर अदालत में पेश किया गया। जहां से शिवम को जेल भेज दिया, जबकि दोनों नाबालिगों को बाल सुधारगृह में भेज गया।

चांदनी बाग थाना प्रभारी इंस्पेक्टर हरविद्र सिंह ने बताया कि 17 अप्रैल को डाडोला का सुधीर अपने निजी काम से छोटूराम चौक की तरफ जा रहा था और फोन जेब से फोन निकालकर बात करने लगा। तभी उझा बाईपास पर बाइक सवार तीन युवक आए और पीछे बैठे लड़के ने मोबाइल फोन छीन लिया। थाना चांदनी बाग पुलिस ने मामला दर्ज किया है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप