पानीपत, जागरण संवाददाता। दशहरा पर्व पर शुक्रवार को शाम 5:48 पर बुराई के प्रतीक रावण को जलाया जाएगा। इसके साथ ही कुंभकर्ण, मेघनाद को भी आग के हवाले करेंगे। इस बार नवांकोट गुरुद्वारे के पास कटारिया लैंड पर सबसे बड़ा पुतला जलाया जाएगा। यहां 70 फीट का रावण जलाया जाएगा। इसके अलावा अन्य जगहों पर रावण के पुतले 25 फीट तक बनाए गए हैं।

दशहरा कमेटी सनौली रोड ने इस बार भी दशहरा पर्व एसडीवीएम में मनाने का फैसला किया है। पहले जिमखाना क्लब के पास मैदान में होता था। कोविड के कारण स्कूल में मनाया जा रहा है। श्रीराम दशहरा कमेटी बरसत रोड की ओर से सेक्टर 13-17 के मैदान में रावण का कुनबा जलाया जाएगा। यहां पर कोरोना का पुतला भी फूंकेंगे। शिवाजी स्टेडियम में सनातन धर्म मंदिर मंदिर की ओर से पर्व मनाया जाएगा। इसके अलावा देवी मंदिर में आयोजन किया जा रहा है।

पानीपत में यहां पूरा कुनबा तैयार

पानीपत के श्री कृष्णा क्लब ने कटारिया लैंड, सेक्टर 12 में दशहरा पर्व मनाए जाने का फैसला किया है। 70 फीट का रावण, 65-65 फीट के कुंभकर्ण व मेघनाद के पुतले तैयार कर लिए गए हैं। पुतलों को मेला स्थल पर खड़ा कर दिया गया।

यहां वाहन रहेंगे डाइवर्ट

दशहरा पर्व पर 15 अक्टूबर को दोपहर बाद दो से शाम सात बजे तक उत्तर प्रदेश की तरफ से आने वाले सभी वाहनों को बाईपास के माध्यम से जीटी रोड पर डाइवर्ट किया गया है। दिल्‍ली चंडीगढ़ रोड मलिक पेट्रोल पंप की ओर से मित्तल मेगा माल की तरफ जाने वाले भारी वाहनों सहित आटो के आवागमन पर पाबंदी रहेगी। सेक्‍टर दशहरा स्थल के पास बाइक सहित कोई भी वाहन लेकर न जाएं।

संदिग्‍ध व्‍यक्तियों पर पुलिस की रहेगी नजर

एसपी शशांक कुमार सावन ने सभी थाना और चौकी प्रभारियों को सख्‍ती करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही संदिग्‍ध जगहों पर बैरिकेड्स लगाने और जांच करने के आदेश दिए हैं। वहीं मुख्य बाजारों, चौक-चौहराहों सहित होटल, ढाबे, धर्मशाला और मस्जिदों पर नजर रखी जाएगी।

Edited By: Anurag Shukla