करनाल, जागरण संवाददाता। ड्रग इंस्पेक्टर व पुलिस टीम ने न्यू प्रेम नगर स्थित एक घर पर छापेमारी की तो बेड से प्रतिबंधित दवाओं का जखीरा मिला। इनके साथ एमटीपी किट भी बरामद हुई। घर पर महिला थी जबकि उसके पति ऐसी दवाओं की सप्लाई करने कहीं पर गए हुए थे। यह देख छापेमारी कर रही टीम भी हैरान रह गई। बाद में पुलिस ने आरोपित पति-पत्नी के खिलाफ केस भी दर्ज कर लिया।

थाना रामनगर की एक टीम देर रात को गांधी नगर क्षेत्र में गश्त कर रही थी। तभी सूचना मिली कि न्यू प्रेम नगर वासी कमल सिक्का प्रतिबंधित दवाएं बेचने का काम करता है और उसने अपने घर पर ही ये दवाएं रखी हुई है। पुलिस टीम ने तत्काल ही उच्चाधिकारियों को अवगत कराया तो वहीं मौके पर ड्रग इंस्पेक्टर रितू मेहला भी पहुंची। पुलिस के मुताबिक घर पर आरोपित कमल सिक्का की पत्नी शिल्पा थी और जांच की तो बेड से प्रतिबंधित दवाएं व एमटीपी किट बरामद हुई। जिनके संबंध में वे कोई वैध दस्तावेज नहीं दिखा सकी। महिला ने माना कि उसके पति इनमें से कुछ दवाओं की सप्लाई करने गए हुए हैं और दवाएं आज ही वे दिल्ली से लेकर आए थे।

ये मिली दवाएं

पुलिस के अनुसार बेड से 104 एमटीपी किट व अन्य अंग्रेजी दवाईयों के इलावा प्रतिबंधित दवा ट्रामा डोल के 10800 कैप्सूल, 1200 अल्पराजोलम गोलियां, 2880 लोमोटिल गोलियां के अलावा लोराजी पाम की 350 गोलियां बरामद हुई, जिन्हें ड्रग इंस्पेक्टर ने कब्जे में ले लिया।

प्रतिबंधित दवाओं को लेकर छापेमारी जारी रहेगी : रितू मेहला

ड्रग इंस्पेक्टर रितू मेहला का कहना है कि प्रतिबंधित दवा रखने व सप्लाई करने वाले लोगों के खिलाफ तत्काल कार्रवाई की जा रही है। ऐसी छापेमारी लगातार जारी रखी जाएगी। रात को बड़ी मात्रा में दवाएं व एमटीपी किट बरामद हुई है। इस मामले की अभी गहनता से जांच की जा रही है।

आरोपितों का खंगाला जा रहा रिकार्ड : एसएचओ

एसएचओ सतपाल सिंह का कहना है कि आरोपित पति-पत्नी के खिलाफ प्रतिबंधित दवाएं रखने के आरोप में केस दर्ज कर लिया गया है। इनसे पूछताछ कर पूरे रैकेट का पता लगाया जाएगा।

Edited By: Anurag Shukla