जागरण संवाददाता, अंबाला। अंबाला में डेंगू के मरीजों का आंकड़ा 103 पहुंच गया है। इस वजह से ट्रामा सेंटर में डेंगू के मेल व फीमेल वार्ड में 11 -11 बेड लगे हैं, जो हाउस फुल हो चुके हैं। इस वजह एक बेड पर दो मरीजों का इलाज भी किया जा रहा है। अब ट्रामा सेंटर में मरीजों के लिए ओर बेड बढ़ाए जाएंगे, ताकि मरीजों को आसानी से इलाज मिले।

अंबाला में डेंगू के मरीजों का ग्राफ निरंतर बढ़ता जा रहा है। जिले में डेंगू के मरीजों का आंकड़ा वर्ष 2020 के आंकड़े को पार कर चुका है। अब तक डेंगू के 103 पाजिटिव मरीज मिल चुके हैं। गांव से लेकर शहर में बुखार के संदिग्ध मरीजों के एलाइजा टेस्ट के लिए नमूने लिए जाते हैं। इसमें डेंगू की पुष्टि होने पर मरीजों को इलाज के लिए भर्ती किया जाता है।

सुविधा के लिए जरुरत के हिसाब से बेड़ बढ़ाए जाएंगे

नागरिक अस्पताल के ट्रामा सेंटर में डेंगू के मेल व फीमेल वार्ड में 22 बेड मरीजों के लिए हैं, लेकिन डेंगू के हर रोज मरीज आने से फुल हो गए हैं। इस वजह से नए मरीजों को बेड के लिए परेशानी हो रही है। मजबूरी में एक बेड पर दो मरीजों को भर्ती कर इलाज किया जा रहा है। इस संबंध में जिला महामारी नियंत्रक अधिकारी डा. सुनील हरि ने बताया कि डेंगू वार्ड में मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। इसलिए मरीजों की सुविधा के लिए जरुरत के हिसाब से बेड़ बढ़ाए जाएंगे।

वार्ड में रात में मच्छरों से मरीज परेशान

ट्रामा सेंटर में मरीजों के लिए मेल व फीमेल वार्ड बने हैं। यहां पर डेंगू के मरीजों को भर्ती कर इलाज किया जाता है। यहां पर रात में मच्छरों और कीट पंतों से मरीज परेशान हैं। वार्ड में रात में कीट-पंतों से मरीजों के बेड़ पर गिरते हैं, और नींद भी नहीं आती है।

जिले में डेंगू के मरीजों का गिर रहा ग्राफ

वर्ष                                        डेंगू पाजिटिव

2016                                       580

2017                                       325

2018                                       110

2019                                       124

2020                                         42

2021                                        103

Edited By: Naveen Dalal