समालखा, जेएनएन। पानीपत के चुलकाना गांव में 20 वर्षीय विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। शव घर पर पंखे से लटका मिला। वहीं स्वजनों ने ससुराल वालों पर दहेज के लिए हत्या का आरोप लगाया है। उसकी दस माह पहले ही शादी हुई थी। पुलिस को सूचना मिलते ही पुलिस घटनास्‍थल पर पहुंची मगर तब तक देर हो चुकी थी। फंदे पर लटकी युवती ने दम तोड़ दिया था। वहीं युवती की जान तो गई ही साथ में गर्भ में पल रहे बच्‍चे की भी मौत हो गई। रिकॉर्ड में भले ही एक मौत दर्ज हाेगी मगर जानें दो चली गई। कुछ इसी तरह के संवाद करते हुए मृतका के परिजन नजर आए।

मृतका के पिता राजबीर ने पुलिस को बताया कि वह उत्तर प्रदेश के शामली जिले के गांव बिरालिपान माजरा पहियापुर का रहने वाला है। उसकी चार लड़की और दो लड़के हैं। तीसरे नंबर की लड़की रूपा (20) की शादी 10 मई 2019 को पानीपत के गांव चुलकाना वासी राहुल के साथ की थी।

शादी में हैसियत के अनुसार खर्च किया। ससुराल वालों ने शादी के कुछ दिन बाद तक तो रूपा को ठीक रखा, लेकिन तीन माह बाद दहेज के लिए तंग करने लगे। आठ अप्रैल को रूपा के ससुर कृष्ण ने शाम के समय उन्हें फोन कर बताया कि रूपा ने फांसी लगा ली है। उन्होंने अंतिम संस्कार भी कर दिया है।

उसने बताया कि रात को और लॉकडाउन लगा होने के कारण वो उस समय आ नहीं सके। गुरुवार को वह थाना पहुंचे और पुलिस को शिकायत दी। राजबीर का आरोप है कि ससुराल वालों ने दहेज के लिए उसकी बेटी को फांसी के मजबूर किया गया। रूपा पांच माह की गर्भवती भी थी।  जांच अधिकारी एसआइ रमेश कुमार का कहना है कि मृतका के पिता राजबीर के बयान पर पति राहुल, ससुर कृष्ण, सास व ननद के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया गया है।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें  

Posted By: Manoj Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस