जागरण संवाददाता, पानीपत : कृषि एवं किसान कल्याण विभाग की ओर से आगामी एक से 31 अगस्त तक खरीफ फसलों की क्राप मेपिग व बुकिग का कार्य किया जाएगा। इस काम में कृषि के अलावा बागवानी, पंचायती राज, मार्केटिग बोर्ड व सिचाई विभाग का भी सहयोग लिया जाएगा। काम को सफलतापूर्वक करने के लिए वीरवार को लघु सचिवालय स्थित द्वितीय तल पर सभागार में उक्त विभागों के कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण शिविर में कृषि विभाग के अधिकारियों ने जहां फसल बारे बताया। वहीं राजस्व विभाग के कानूनगो सुरेंदर कुमार ने गांव के मानचित्र (सिजरा) द्वारा खेतों का चयन करने बारे विस्तार से जानकारी दी ताकि मेपिग आसानी से की जा सके।

कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के उप निदेशक डा. वीरेंदर देव आर्य ने बताया कि सरकार के निर्देशानुसार 31 अगस्त तक खरीफ फसलों की क्राप मेपिग व क्राप बुकिग का कार्य संपन्न करना है। इसको लेकर जिले भर के गांवों में 188 कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है। उपनिदेशक ने सभी कर्मचारियों को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि काम के प्रति सभी सजगता दिखाएं, ताकि काम को तय समय पर किया जा सके। उन्होंने बताया कि फसलों की क्राप मेपिग व बुकिग से सभी फसलों की बिजाई का डाटा तैयार हो सकेगा। इससे विभाग व सरकार को आने वाले सीजन में आंकलन करने में परेशानी नहीं होगी। इस मौके पर एसडीओ अनिल नरवाल, एडीओ राकेश सिंह, टीएम जयभगवान गहलावत आदि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran