जागरण संवाददाता, पानीपत : नगर निगम पेमेंट के अभाव में रुके विकास कार्य जल्द ही शुरू हो सकेंगे। निगम को 62 से 65 करोड़ रुपये की बड़ी ग्रांट जल्द ही मिल जाएगी। इनमें से 47.87 करोड़ रुपये वित्त विभाग ने गत दिनों ही मंजूर किए थे। 15-18 करोड़ रुपये की पेमेंट निगम को मिलने वाली त्रैमासिक पेमेंट की पहली किस्त होगी। निगम के लेखा अधिकारियों ने इसी सप्ताह ग्रांट मिलने की उम्मीद जताई है।

नए वित्त वर्ष में नगर निगम को नई ग्रांट नहीं मिल पाई थी। जिसके चलते ठेकेदारों की पेमेंट भी नहीं की जा सकी थी। निगम में करोड़ों रुपये के बिल पेंडिग हैं। ठेकेदार अधिकारियों के लगातार चक्कर काट रहे हैं। कई ठेकेदारों ने पेमेंट न होने पर दूसरे काम शुरू नहीं किए। ऐसे में शहर का विकास ठप हो गया है।

बाहरी कॉलोनियों के 29 विकास कार्य

नगर निगम ने बाहरी कॉलोनियों में विकास कार्यों के 29 टेंडर लगाए थे। इनका बजट 47.87 करोड़ रुपये बनाया था। शहरी स्थानीय निकाय विभाग ने इन कामों की प्रशासनिक मंजूरी दे दी थी। इन कामों की अब तक पेमेंट नहीं हो पाई थी। जिसके चलते काम शुरू नहीं हो पाए थे।

ये काम बंद पड़े हैं

-विकास नगर में 4.76 करोड़ रुपये में विभिन्न गलियों का निर्माण करना है।

-बलजीत नगर, विद्यानंद कॉलोनी व आर्य नगर में 3.97 करोड़ में सड़कें व गलियां बनाई जाएंगी।

-जावा कॉलोनी में सड़कें, नाले और मुख्य सड़क 2.10 करोड़ रुपये में बनाई जाएंगी।

-राकेश नगर व दलबीर नगर में सड़कें व ड्रेन 90.45 लाख रुपये में बनाई जाएंगी।

-गंगाराम कॉलोनी में 1.64 करोड़ रुपये की लागत से विभिन्न गली व सड़कें बनाई जाएंगी।

वर्जन :

निगम में पहली त्रैमासिक किस्त इसी सप्ताह मिल जाएगी। इसके अलावा बाहरी कॉलोनियों के 29 विकास कार्यों की पेमेंट भी जल्द ही मिल जाएगी। अकाउंट ब्रांच तकनीकी अधिकारियों से मंजूर बिलों की पेमेंट करता है।

केके जैन, एओ, नगर निगम।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran