जींद, जेएनएन। कोरोना संक्रमण के मामले में रविवार का दिन जींद के लिए बहुत बुरा साबित हुआ। रविवार को एक ही दिन में अब तक के सर्वाधिक 600 कोरोना संक्रमित मिले और पांच लोगों की कोरोना से मौत हो गई। इससे पहले एक दिन में इतनी बड़ी संख्या में कोरोना संक्रमित कभी नहीं मिले थे।

राजकीय आइटीआइ के 20 से ज्यादा स्टाफ सदस्यों, नागरिक अस्पताल के एंबुलेंस के बेड़े में कार्यरत ऑपरेटर और लैब टैक्नीशियन समेत 600 संक्रमित मिलने से स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन अब गंभीर हो गया है कि आखिर कोरोना पर काबू किस तरह से पाया जाए। हर दूसरी सैंपल रिपोर्ट पॉजिटिव मिल रही है। इसके अलावा कोरोना अब शहर के साथ-साथ गांवों की तरफ भी बढऩे लगा है।

 

शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग को 1176 सैंपलों की रिपोर्ट मिली। इनमें 600 कोरोना पॉजिटिव मिले। इसके साथ ही जिले में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 10472 पर पहुंच गया है। 7985 लोग पॉजिटिव से नेगेटिव हो चुके हैं। फिलहाल जिले में 2348 एक्टिव केस हैं। शुक्रवार को मिले संक्रमितों में शहर की अर्बन एस्टेट कॉलोनी के 11 तो विजय नगर के पांच और दूसरी कई कॉलोनियों से पॉजिटिव मिले हैं। गांव लुदाना, अमरावली, मुआना, कंडेला, कालवा, सिवाहा जैसे गांवों में कोरोना बम फूटा है। इनमें हर गांव में 5 से 10 मरीज कोरोना संक्रमित मिले हैं। जुलाना कस्बे में भी 10 से ज्यादा मामले कोरोना के आए हैं।

कोरोना से पांच की मौत, 25 दिन में 63 मौत

रविवार को जिले में कोरोना संक्रमण से 5 लोगों की मौत हुई। जींद के झांज गेट के पास के प्रेम नगर की 72 वर्षीय पुष्पा को गंभीर बीमारी की हालत में जींद के बालाजी अस्पताल में दाखिल करवाया गया था। रविवार को बालाजी अस्पताल में पुष्पा की मौत हो गई। कोरोना से दूसरी मौत जींद के भिवानी रोड की 65 वर्षीय रोशनी की हुई। तीसरी मौत जींद की हनुमान गली निवासी 56 वर्षीय कांता देवी की हुई। कांता देवी जींद के सिविल अस्पताल में दाखिल थी, जहां रविवार को उसकी मौत हो गई। जींद के सिविल अस्पताल में ही दिल्ली के राजीव नामक व्यक्ति की कोरोना के दौरान मौत हो गई। जिले में कोरोना से 5वीं मौत जींद के झांज गेट की 62 वर्षीय ऊषा की हुई। ऊषा को जींद के सिविल अस्पताल में दाखिल करवाया गया था, जहां रविवार को उसने दम तोड़ दिया। नागरिक अस्पताल के डिप्टी सीएमओ डा. पालेराम कटारिया ने बताया कि कुछ रिपोर्ट गुरुग्राम लैब में भेजी हुई थी, वह काफी दिन से रूकी हुई थी, उनकी रिपोर्ट रविवार को मिली, इस कारण आंकड़ा 600 पर चला गया।

अप्रैल के 25 दिनों में 63 मौत

अप्रैल महीने में अब तक 63 लोगों की मौत कोरोना संक्रमण के चलते हो चुकी है। पिछले 9 दिनों से कोरोना जिले में कहर बरपा रहा है। पिछले पांच दिनों से हर रोज पांच मौत कोरोना के चलते हो रही हैं तो 20 अप्रैल को सात लोगों ने कोरोना से दम तोड़ा था। शुरूआत में कोरोना के चलते मरने वाले लोग पहले से ही गंभीर बीमारी से पीडि़त थे लेकिन अब जो भी मर रहे हैं, उनमें ज्यादातर पहले से किसी गंभीर बीमारी से पीडि़त नहीं हैं।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

यह भी पढ़ें:  कोरोना महामारी के बीच आई नई मुसीबत, ऑक्सीजन भी होने लगी चोरी, पानीपत रिफाइनरी का टैंकर ले उड़े चोर

यह भी पढ़ें: 'सॉरी' लिखकर चोर ने लौटाई कोरोना वैक्सीन, हरियाणा में सामने आया चौकाने वाला मामला

यह भी पढ़ें: हरियाणा के जींद में लस्‍सी में गिरी छिपकली, पीने से 2 की मौत, 5 की हालत गंभीर


यह भी पढ़ें: बेटी पूरे कर रहे टैक्सी चालक पिता के ख्‍वाब, भाई ने दिया साथ तो कामयाबी को बढ़े हाथ

यह भी पढ़ें: पानीपत में बढ़ रहा कोरोना, बच्‍चों को इस तरह बचाएं, जानिये क्‍या है शिशु रोग विशेषज्ञ की सलाह

यह भी पढ़ें: चोट से बदली पानीपत के पहलवान की जिंदगी, खेलने का तरीका बदल बना नेशनल चैंपियन

Edited By: Anurag Shukla