कैथल, जेेेेेेएनएन। डीसी प्रदीप दहिया ने बताया कि शनिवार को 31 कोरोना मरीज ठीक होने के बाद डिस्चार्ज कर दिए गए हैं। नागरिक अस्पताल कैथल से तीन, शाह अस्पताल से एक, सिगनस अस्पताल से एक और होम आइसोलेशन में रहे 26 व्यक्तियों ने कोरोना को मात दी। जिला में 11 हजार 54 कोरोना के मरीजों में से 10 हजार 539 मरीज ठीक हो चुके हैं। अब कोरोना के एक्टिव केस 184 रह गए हैं। अभी तक लिए गए दो लाख 66 हजार 475 में से दाे लाख 55 हजार 262 सैपलों की रिपोर्ट नेगेटिव आ चुकी है। जिला का रिकवरी रेट 95.3 प्रतिशत है। पाजिटिव रेट 4.1 प्रतिशत है और डेथ रेट 2.9 प्रतिशत है।

डीसी प्रदीप दहिया ने स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट अनुसार बताया कि जिला में अलग-अलग जगहों से कोरोना वायरस से संक्रमित 16 नए केस सामने आए है। शनिवार को जिला में कोरोना से तीन व्यक्तियों की मृत्यु हुई, जिनमें एक पुरुष और दो महिलाएं शामिल हैं। जिनमें से एक कोरोना पाजिटिव का इलाज जिले से बाहर चल रहा था। उन्होंने बताया कि मृतकों में 37 वर्षीय चंदाना निवासी पुरुष का इलाज शाह अस्पताल और 68 वर्षीय देवबन निवासी महिला का इलाज जिला के नागरिक अस्पताल में चल रहा था।

होम आइसोलेशन में रह रहे व्यक्तियों की हो रही निरंतर निगरानी

जिला में 138 मरीज होम आइसोलेशन में हैं। इन लोगों से दूरभाष के माध्यम से संपर्क किया जाता है। ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में होम आइसोलेशन में रह रहे व्यक्तियों को मेडिकल किट और आयुर्वेदिक दवाओं होम डिलीवरी की जा रही है। होम आइसोलेशन में रह रहे 9335 व्यक्तियों में से 9197 ठीक हो चुके हैं।

ये है वैक्सीनेशन की स्थिति

जिला में शनिवार तक एक लाख 97 हजार 607 व्यक्तियों का टीकाकरण किया जा चुका है, जिनमें से एक लाख 69 हजार 818 व्यक्तियों को पहली डोज और 27 हजार 789 व्यक्तियों को दूसरी डोज दी जा चुकी है। इनमें 10 हजार 937 हेल्थ केयर वर्कर्स, सात हजार 534 फ्रंट लाइन वर्कर्स, 18 से 45 वर्ष आयु वर्ग के 58 हजार 122 व्यक्ति और 45 वर्ष आयु वर्ग से ऊपर के एक लाख 21 हजार 14 व्यक्ति शामिल हैं। शनिवार को कुल 2271 व्यक्तियों का टीकाकरण किया गया, जिनमें दो हेल्थ केयर वर्कर, दो फ्रंट लाइन वर्कर, 18 से 45 वर्ष आयु के 2125 व्यक्ति और 45 वर्ष से ऊपर के 142 व्यक्ति शामिल हैं। अब स्टॉक के तौर पर 14300 वैक्सीन उपलब्ध हैं, जिसमें से 9700 कोविशिल्ड और 4600 कोवैक्सीन हैं।

Edited By: Anurag Shukla