पानीपत/कुरुक्षेत्र, जेएनएन।  कोरोना वैक्सीन का इंतजार अब खत्म हो गया। बुधवार शाम को कड़ी सुरक्षा के बीच कुरुक्षेत्र में कोरोना वैक्सीन पहुंच गई। दिल्ली और चंडीगढ़ ऐयरपोर्ट से कोरोना वैक्सीन ट्रकों में भरकर पहुंची। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी चौकस हो गए हैं। वेयरहाउस में 40 हजार क्यूबिक लीटर दवा स्टोर करने की व्यवस्था बनाई गई है।

पुलिस की कड़ी सुरक्षा के बीच कोरोना वैक्सीन दोपहर बाद कुरुक्षेत्र में पहुंच गई। दिल्ली और चंडीगढ़ से चली वैक्सीन की दोनों स्टॉक को सौंपने खुद एनएचएम के निदेशक डा. बीके रिजोरा और डा. वीरेंद्र अहलावत पहुंचे। उन्होंने दो लाख 61 हजार 500 डोज सौंपकर प्रतिरक्षण अधिकारी डा. अनुपमा सिंह से बाकायदा लिखित में रसीद भी ली। जिले में सिरम द्वारा बनाई कोविशील्ड के 21 डिब्बे और भारत बायोटैक द्वारा बनाई गई कोविन दोनों वैक्सीन पहुंचाई गई है। कोविन जहां दिल्ली तो कोविशील्ड वैक्सीन चंडीगढ़ ऐयरपोर्ट पहुंची, जिसके बाद सड़क के रास्ते उन्हें कुरुक्षेत्र पहुंचा गया।

Coronavirus vaccine in Kurukshetra security

डा. बीके रिजोरा ने बताया कि अभी वैक्सीन रोहतक, गुरुग्राम, हिसार और कुरुक्षेत्र के रिजनल सेंटर पर पहुंचाया गया है, जिसके बाद अब दूसरे जिलों में वितरित किया जाएगा। गौरतलब है कि 16 जनवरी को 430 स्वास्थ्य कर्मचारियों को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज दी जानी है। जिसको लेकर छह टीकाकरण केंद्रों को चयनित किया गया है।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Coronavirus vaccine

तापमान निर्धारित तापमान से कम होते ही जिला प्रतिरक्षण अधिकारी के मोबाइल पर पहुंचेगा मैसेज

वैक्सीन को जिस वॉक इन कूलर (एक तरह का फ्रिजर) में रखा जाएगा उसका निर्धारित तापमान जरा सा ऊपर या नीचे होते ही तुरंत कोल्ड चेन हेंडलर के साथ जिला प्रतिरक्षण अधिकारी के मोबाइल पर मैसेज पहुंच जाएगा। वॉक इन कूलर पर डाटा लॉगर मॉनीटरिंग सिस्टम जोड़ा गया है, जो तापमान के कम या ज्यादा होने पर इसकी सूचना तुरंत मैसेज के माध्यम से अधिकारी तक पहुंचाएगा, ताकि समय रहते तापमान को नियंत्रित किया सके और दवा को खराब होने से बचाया जा सके। यानी अधिकारी कहीं पर भी हों वैक्सीन सुरक्षित रखने के लिए मशीने 24 घंटे अपना काम करेगी। कोरोना वैक्सीन को प्लस दो डिग्री सेल्सियस से आठ डिग्री सेल्सियस तक स्टोर किया जाएगा।

जिले में छह वैक्सीनेशन सेंटर तैयार

जिले में सात जनवरी को छह टीकाकरण केंद्र बनाकर वहां पर मॉकड्रिल भी हो चुकी है। इन्हीं केंद्रों पर टीकाकरण किया जाएगा। जिले में लोकनायक जयप्रकाश नागरिक अस्पताल, सेक्टर चार पोलीक्लीनिक, कृष्णा नगर गामड़ी शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और बाबैन व पिहोवा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं। जिले में पहले दौर में 430 स्वास्थ्य कर्मचारियों का टीकाकरण होना है।

आ गई वैक्सीन : डा. अनुपमा सिंह

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा. अनुपमा सिंह ने बताया कि वैक्सीन जिले में पहुंच गई। कुछ वैक्सीन दिल्ली ऐयरपोर्ट तो कुछ चंडीगढ़ ऐयरपोर्ट से आई। दोनों ही वैक्सीन को एक जगह पर स्टोर किया जाएगा।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021