पानीपत, जेएनएन। सिठाना स्थित सीनियर सेकेंडरी स्कूल की एक महिला शिक्षिका कोरोना पॉजिटिव मिली है। अब महिला के साथी शिक्षक-शिक्षिकाओं में कोरोना का भय है। पूरे स्टाफ को स्कूल बुलाने पर शिक्षकों में शिक्षा विभाग के प्रति भी रोष है। अब स्कूल के पूरे स्टाफ का कोरोना टेस्ट होगा। रिपोर्ट आने तक सभी को होम क्वारंटाइन किया जाएगा।

कोरोना के कारण प्रदेशभर के शिक्षण संस्थान बंद हैं। जून माह से जिला शिक्षा विभाग ने स्टाफ को स्कूल आने के आदेश दे दिये। कई जिलों में शिक्षक रोटेशन के हिसाब से स्कूल पहुंच रहे हैं। रविवार को सिठाना स्थित सीनियर सेकेंडरी स्कूल में कार्यरत एक शिक्षिका कोरोना पॉजिटिव मिली है। इस स्कूल में 30 से अधिक लोगों का स्टाफ है। स्टाफ के साथ बच्चे भी रोजाना स्कूल पहुंचकर कभी किताबों और कभी स्कूल खुलने की जानकारी लेते हैं। अभिभावक भी स्कूल आते-जाते रहते हैं। अब शिक्षिका के पॉजिटिव मिलने के बाद अन्य शिक्षकों समेत हाल ही में शिक्षिका से मिलने वाले बच्चों और अभिभावकों में कोरोना का डर है। शिक्षकों का कहना है कि पानीपत में स्कूल के पूरे स्टाफ को बुलाया जा रहा है। जबकि पूरे स्टाफ का स्कूल में कोई काम नहीं है। शिक्षकों और उनके परिवारों को हर समय महामारी का खतरा बना रहता है।

शनिवार को हुई थी पीटीएम, कैमरे में रिकार्ड

सिठाना स्कूल में शनिवार को पेरेंट््स-टीचर मीङ्क्षटग का भी आयोजन किया गया। यह पीटीएम स्कूल में लगे सीसीटीवी कैमरों में कैद हो गई है। शिक्षकों ने बताया कि अब विभाग की ओर से स्कूल में सभी को मास्क लगाकर आने के आदेश दिए गए हैं।  

रिपोर्ट आने तक होम क्वारंटाइन रहेंगे शिक्षक

डीईओ रमेश कुमार ने बताया कि सिठाना सीनियर सेकेंडरी स्कूल में एक शिक्षिका कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद स्कूल के पूरे स्टाफ का टेस्ट कराया जाएगा। रिपोर्ट आने तक सभी शिक्षक व सहायक स्टाफ होम क्वारंटाइन रहेगा। 100 फीसद स्टाफ को बुलाने पर डीईओ ने कहा कि शिक्षा निदेशालय के आदेश पर ही शिक्षकों को बुलाया जा रहा है। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस