पानीपत, जागरण संवाददाता। पानीपत के डाहर स्थित नई शुगर मिल के उद्घाटन कार्यक्रम के दौरान धन्यवाद रैली में भीड़ को देख गदगद हुए सीएम मनोहर लाल ने पानीपत जिले के शहर से लेकर ग्रामीण आंचल में विकास कार्यों को लेकर धनवर्षा की। सीएम ने विधायकों व सांसद द्वारा शिक्षा, स्वास्थ्य, खेल, पानी निकासी, पानी सप्लाई, फायर स्टेशन से लेकर अन्य विकास कार्यों को लेकर रखी करीब 250 मांगों को मान खजाने का मुंह खोलते हुए 1768 करोड़ रुपये की मंजूरी दी। उन्होंने पानीपत शहरी, ग्रामीण के साथ समालखा व इसराना हलके को भी पीछे नहीं छोड़ा।

वहीं सीएम के ऐलान के बाद लोगों की खुशी का भी कोई ठिकाना नहीं रहा। उन्होंने जमकर जिंदाबाद के नारे लगाए। इतना ही नहीं, बल्कि सांसद संजय भाटिया भी अपने आपको रोक नहीं पाए और लठ गाड़ दिया मुख्यमंत्री जी के शब्दों के साथ आभार जताया। इससे पहले लोगों ने सीएम का फूलमाला पहना जोरदार स्वागत भी किया। सीएम ने शुगर मिल के उद्घाटन समारोह में हवन यज्ञ में भाग लेने के बाद गन्ना पेराई की शुरुआत की। उन्होंने रैली के दौरान परिवार पहचान पत्र के अंतर्गत लाभ पाने वाले लाभार्थियों को पीले राशन कार्ड, पैंशन कार्ड और अंत्योदय परिवार उत्थान मेले के तहत लोन मिलने वाले लाभार्थियों को भी अधिकारिक कागजात भी सौंपे।

हमने अंडर ग्राउंड नाली बंद कर दी

सीएम मनोहर लाल ने कहा कि पात्र लोगों को सरकार की योजनाओं का सीधे लाभ मिले, इसको लेकर हमने पीपीपी से प्रदेश में अभी तक 67 लाख लोगों को जोड़ उनका डाटा अपडेट किया है। अब जो परिवार जिस योजना का पात्र होगा, उसे घर बैठे लाभ मिलेगा। जो क्लर्क लोग चक्कर लगवाते थे, वो अब नहीं होगा। सीएम ने कहा कि भ्रष्टाचार बिल्कुल सहन नहीं होगा। जो करेगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। वो कांग्रेस का समय था, जब एक रुपया भेजते थे तो जनता 15 पैसे पहुंचते थे। अब जमाना बदल चुका है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में एक रुपया भेजते हैं तो जनता तक रुपया ही पहुंचता है।

सीएम ने कहा कि कांग्रेस के राज में दो पाइप लाइन होती थी। एक ऊपर और एक अंडर ग्राउंड। हमने उस अंडर ग्राउंड पाइप लाइन को बंद कर दिया है। वहीं सहकारिता मंत्री डा. बनवारी लाल व शुगर फेड के चेयरमैन एवं शाहबाद विधायक रामकरण ने कहा कि ये नई शुगर मिल के शुरु होने से ना केवल पानीपत, बल्कि आसपास के जिले के किसानों को भी फायदा होगा। चेयरमैन ने पानीपत की तरह सोनीपत में भी बड़ी आधुनिक शुगर मिल लगाने की मांग रखी।

रेनीवेल की सांसद ने रखी मांग, सीएम ने लगाई मोहर

पानी के गिरते जल स्तर पर पर चिंता जाहिर करते हुए सांसद संजय भाटिया ने सीएम मनोहर लाल के समक्ष यमुना या शहर के पास से गुजरने वाली नहरों पर रेनीवेल सिस्टम लगाने की मांग रखी। सांसद ने कहा कि पानीपत औद्योगिक नगरी है। जहां अनेक डाई हाउस हैं। यहां पानी नीचे जाने के साथ खराब हो चुका है। बड़े लोगों के घरों में आरओ लगे हैं, लेकिन आम आदमी ऐसे ही पानी को पीता है। ऐसे में रेनीवेल बहुत जरूरी है। जिस पर सीएम ने मोहर लगाते हुए पानीपत जिले को 800 करोड़ की रेनीवेल योजना की सौगात दी है। सीएम ने कहा कि यमुना से रेनीवेल योजना के माध्यम से पानी लेकर जिले में पानी की समस्या को दूर किया जाएगा। उन्होंने कहा कि साल भर में 1600 तालाबों को साफ सुथरा करा, उनके पानी को भी ट्रीट कर किसानों को खेती के लिए देंगे।

सीएम के सामने महिपाल ढांडा ने रखी मांगे

पानीपत ग्रामीण हलका विधायक महिपाल ढांडा ने सीएम मनोहर लाल के समक्ष अपने हलके की अनेक मांगे रखी। ढांडा ने कहा कि जिन किसानों को पूर्व सीएम भजन लाल, ओमप्रकाश चौटाला व भूपेंद्र हुड्डा ने धोखे में रखा। उन्हें आपने इतनी बड़ी सौगात देने का काम किया। आप विकास में कोई कसर नहीं छोड़ रहे। मैं तो आपके नाम को ही बेचकर खूब काम करा रहा हूं। ढांडा ने सीएम के सामने शुगर मिल में 33 सालों से लगे कर्मचारियों को पक्का करने, पूर्वांचल समाज के लोगों के लिए ड्रेन, रजवाहे पर पूजा घाट बनवाने, हुडा सेक्टर में कम्यूनिटी सेंटर बनवाने, सेक्टर 13-17 में मंदिर बनवाने, रिफाइनरी लाइन के ऊपर खाली जगह पर पार्क बनवाने, डाहर में इंटरनेशनल स्टेडियम के साथ लड़कियों का कालेज बनवाने की मांग रखी। उन्होंने सेक्टर 13-17 स्थित कम्यूनिटी सेंटर को खाली कराने की मांग की। जहां थाना खुला है। वहीं शहरी विधायक प्रमोद विज ने सीएम शहर के विकास को लेकर करोड़ों रुपये मंजूर करने व शुगर मिल की सौगात देने पर आभार जताया।

ये रहे मौजूद

इस मौके पर सहकारिता विभाग के एसीएस टीवीएसएन प्रसाद, सीएम के राजनीतिक सलाहकार कृष्ण बेदी, भाजपा की जिला अध्यक्ष डा. अर्चना गुप्ता, जजपा के जिला अध्यक्ष सुरेश काला, पूर्व जिला अध्यक्ष गजेंद्र सलूजा, मेयर अवनीत कौर, पूर्व मंत्री कृष्ण लाल पंवार, जवाहर सैनी, जजपा नेता देवेंद्र कादियान, पूर्व मेयर सरदार भूपेंद्र सिंह, कृष्ण छौक्कर, सत्यवान शेरा, शुगरफेड के एमडी सुजान सिंह यादव, डीसी सुशील सारवान, निगमायुक्त आरके सिंह, एमडी शुगर मिल नवदीप सिंह, एसपी शशांक कुमार सावन भी मौजूद रहे।

ये मिली जिले को सौगात

-- गोहाना रोड स्थित पुरानी शुगर मिल की 70 एकड़ जगह में से 35 एकड़ में एचएसवीपी का नया सेक्टर विकसित होगा। जहां मार्केट के साथ पार्क व छोटा जंगल भी बनेगा।

-- डाहर गांव में एक पशु अस्पताल, मतलौडा में बीडीपीओ दफ्तर व पानीपत में एक अल्ट्रा माडर्न फायर स्टेशन को लेकर 44 करोड़।

-- जिले में स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहत बनाने के लिए सीएचसी व पीएचसी के लिए 18 करोड़।

-- पानीपत शहर में विकास को लेकर नगर निगम के लिए 182 करोड़ व समालखा कस्बे के लिए 12 करोड़ मंजूर।

-- पानीपत शहर के अलग अलग सेक्टरों में 17 अलग-अलग कामों के लिए 25.50 करोड़।

-- रामनगर में एक नहरी पुल के लिए 12 व बुड़शाम में एक किलोमीटर तक ड्रेन को पक्का करने के लिए 3 करोड़।

-- इसराना हलके के 17 गांवों में डिप ट्यूबवेल व पाइप लाइन को लेकर 8 करोड़।

-- मतलौडा में बस स्टैंड का निर्माण होगा।

-- पानीपत ग्रामीण व इसराना की 63 सडकों के लिए 106 करोड़ मंजूर।

-- पानीपत जिले के 43 सरकारी स्कूल को अपग्रेड व विकसित करने के लिए 43 करोड़।

-- सनौली रोड के चौड़ीकरण को लेकर 75 करोड़

-- गोहाना रोड के चौड़ीकरण को लेकर 19 करोड़

-- गांवों के विकास को लेकर जिले के छह खंडों में 157 करोड़ से काम होंगे।

Edited By: Rajesh Kumar