जागरण संवाददाता, पानीपत : ठगों ने राजकीय स्कूल के हेड मास्टर के डेबिट कार्ड का क्लोन बनाकर 68,147 रुपये निकाल लिये। बेटी की शादी में व्यस्त होने के कारण वे अपना खाता चेक नहीं कर पाए। उन्हें रुपयों की जरूरत पड़ी और बैंक पहुंचने पर ठगी का पता लगा। पीड़ित चार महीने से थाना शहर और साइबर सेल के चक्कर काटते रहे। बैंक अधिकारी ने भी सुनवाई नहीं की।

सेक्टर-18 के स्वदेश कुमार ने पुलिस को शिकायत दी कि वह शहर स्थित एक सरकारी स्कूल के हेड मास्टर हैं। 10 दिसंबर को उनकी बेटी की शादी थी। वह शादी में व्यस्त थे। शादी के बाद वह जीटी रोड स्थित एसबीआइ बैंक से रुपये निकालने गए तो खाते में रुपये नहीं थे।

ट्रांजक्शन चेक करने पर पता लगा कि 9 से 16 दिसंबर के बाद उनके खाते से छह ट्रांजक्शन हुई हैं। छह बार में उनके खाते से 68,147 रुपये निकाले गए हैं, जबकि उन्होंने ये ट्रांजक्शन नहीं की। बैंक स्टेटमेंट से जानकारी मिली कि ठगों ने ये ट्रांजक्शन हिमाचल प्रदेश के नालागढ़, सोनीपत, करनाल और दिल्ली से की हैं। चार महीने बाद थाना शहर पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।

महिला के खाते से निकाल लिए 26 हजार रुपये

जासं, पानीपत: अशोक विहार कालोनी की बेबी ने पुलिस को शिकायत दी कि वह मजदूर करती है। उसका बैंक खाता जीटी रोड स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा में है। उसके खाते से 15000 और फिर 10000 रुपये निकाल लिए गए। जबकि डेबिट कार्ड उनके पास था। उनका न तो डेबिट कार्ड बदला गया और न ही किसी ने फोन कर कार्ड का नंबर पूछा। इसके बावजूद खाते से रुपये निकाल लिए गए। किला थाना पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।

ठग डेबिट कार्ड का क्लोन बनाकर पहले भी कर चुके हैं कई ठगी की वारदातें

-माडल टाउन के सुशील कुमार के खाते से 36,500 रुपये निकाल लिए।

-गोशाला मंडी के राहुल के खाते से 49,510 रुपये निकाले।

-पुलिसकर्मी दलबीर सिंह के खाते से 35,489 रुपये निकाल लिए गए।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021