पानीपत, जेएनएन। पानीपत में एक नौवीं के छात्र ने आत्‍महत्‍या कर ली। छात्र ने कमरे में गार्डर से चुन्‍नी का फंदा लगाकर जान दे दी। बाद में पोस्‍टमार्टम हाउस से शव ले जाने को लेकर माता पिता में विवाद हो गया। मामला माडल टाउन थाना एरिया के आजाद नगर का है।

दरअसल राजेश और उसकी पत्‍नी सुमन में मनमुटाव चल रहा है। पिछले छह महीने से सुमन अपनी बेटी के साथ मायके सोनीपत के बड़वासनी गांव में रह रही है। जबकि बेटा पति राजेश के साथ रहा था। राजेश किसी काम से बाहर गया था। जब कमरे में लौटा था बेटे का शव फंदे पर लटका हुआ था। पुलिस को सूचना दी और शव को पोस्‍टमार्टम के लिए ले जाया गया।

पत्‍नी सुमन को सूचना दी गई। पोस्‍टमार्टम हाउस में पहुंचते ही राजेश और सुमन के बीच विवाद शुरू हो गया। दोनों शव को ले जाने के लिए हक जताने लगे। इस बीच मायके पक्ष से मारपीट भी शुरू हो गई। विवाद बढ़ता देख थाना शहर की भी पुलिस को बुलाना पड़ा। वहीं, राजेश का आरोप है कि पत्‍नी और साले ने मिलकर बेटे को मार डाला है।

पुलिस ने बताया कि करीब डेढ़ साल से राजेश का सुमन से विवाद चल रहा है। सुमन फैक्‍ट्री में काम करने के लिए जाती थी। उसे पसंद नहीं था। इसको लेकर सुमन ने शिकायत भी दी थी कि पति शराब पीकर उससे मारपीट करता है। इसके बाद सामूहिक तौर पर दोनों के बीच समझौता हो गया था। बेटी पत्‍नी के साथ और बेटा पिता के साथ रहेगा। राजेश रेहड़ी लगाता है।

इधर, पानीपत के गांव ऊंटला में भतीजे ने चाचा व चाची को गोली मार दी है। मामले की जानकारी जुटाई जा रही है। अभी महिला को अस्‍पताल ले जाया जा रहा है। महिला गंभीर रूप से घायल है।

Edited By: Anurag Shukla

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट