कुरुक्षेत्र, जेएनएन। इस्माईलाबाद में विमुक्त घुमतू जाति के वाइस चेयरमैन के साथ शनिवार को हाथापायी के मामले में पुलिस के युवकों को हिरासत में लेने से गुस्साए किसानों ने थाने का घेराव कर दिया। किसानों व पुलिस के बीच बातचीत भी हुई, मगर बातचीत सिरे न चढ़ने पर किसान थाने के अंदर घुस गए। किसानों ने हाइवे को भी जाम कर दिया। किसानों ने प्रदेश सरकार व पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

किसानों का कहना है कि भाजपा सरकार को पहले ही कोई भी कार्यक्रम करने पर किसानों की ओर से विरोध करने की बात कही गई है, मगर इसके बावजूद भी भाजपा कार्यक्रमों का आयोजन कर रही है। किसान पिछले 100 दिन से अधिक समय से आंदोलनरत हैं। ऐसे में भाजपा नेता उनकी बात सुनने के बजाए कार्यक्रमों में शामिल हो रहे हैं।

इस्माईलाबाद थाना पुलिस ने रविवार को विमुक्त घुमतू जाति के वाइस चेयरमैन जय सिंह पाल की शिकायत पर 12-13 युवकों के खिलाफ हाथापायी करने का मामला दर्ज किया था। सोमवार को अल सुबह पुलिस ने गांवों में पहुंच कर युवकों काे हिरासत में लेकर थाने ले आई थी। जिससे किसानों का गुस्सा भड़क उठा। क्षेत्र के विभिन्न गांवों से उत्तेजित किसान एकत्रित होकर इस्माईलाबाद थाने पहुंचे और थाने का घेराव कर दिया।

किसानों का कहना है कि उन्होंने भाजपा-जजपा को पहले ही अगाह किया हुआ है कि अगर वे कोई कार्यक्रम करेंगे या नेता गांवों में आएंगे तो उनका बहिष्कार किया जाएगा। इसके बावजूद भी भाजपा व जजपा नेता कार्यक्रमों में शामिल हो रहे हैं। इसे लेकर पुलिस व किसानों के बीच वार्ता भी हुई, मगर वार्ता सिरे नहीं चढ़ पाई। जिसके बाद किसान थाने के अंदर पहुंच गए। इस्माईलाबाद थाना प्रभारी विक्रांत का कहना है कि पुलिस ने कानून के अनुसार कार्रवाई की है। जो भी कोई कानून को हाथ में लेता है, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें


यह भी पढ़ें: बेटी पूरे कर रहे टैक्सी चालक पिता के ख्‍वाब, भाई ने दिया साथ तो कामयाबी को बढ़े हाथ

यह भी पढ़ें: पानीपत में बढ़ रहा कोरोना, बच्‍चों को इस तरह बचाएं, जानिये क्‍या है शिशु रोग विशेषज्ञ की सलाह

यह भी पढ़ें: चोट से बदली पानीपत के पहलवान की जिंदगी, खेलने का तरीका बदल बना नेशनल चैंपियन

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप