पानीपत, जेएनएन। पानीपत से करीब 800 दिन में 300 से ज्यादा लोग लापता हैं। इनमें चार साल से 17 साल के नाबालिगों की संख्या अधिक है। हरियाणा सरकार ने इस मामले को गंभीरता से लिया है। पानीपत शहर से भाजपा के विधायक प्रमोद विज ने पिछले साल और इस साल भी बजट सत्र में यह मामला विधानसभा में उठाया। अब सरकार ने इस मामले की जांच सीबीआइ से कराने का फैसला लिया है। कहीं मानव तस्करी तो नहीं हो रही, इसकी भी जांच होगी।

एंटी ह्यूमन ट्रैफिक सेल बनेगी

पिछली बार भी सरकार ने सीबीआइ जांच का भरोसा दिलाया था। इस बार गृह मंत्री अनिल विज ने सदन से बाहर भी कहा है कि वह इस मामले की तह में जाने के लिए बच्चों के गायब होने के मामलों को सीबीआइ को सौंपेंगे। पानीपत पुलिस ने क्राइम रिकार्ड ब्यूरो के अधीन एक एंटी ह्यूमन ट्रैफिक सेल बनाने की भी कार्ययोजना तैयार की है।

दूसरे जिलों में भी हो सकते हैं मामले

गृहमंत्री अनिल विज का कहना है कि गुमशुदा बच्चों के मामले में हमने संज्ञान लिया है। यह गंभीर बात है कि बच्चे गायब हो रहे हैं। हो सकता है कि ऐसा दूसरी जगहों पर भी हो। इसलिए पूरे मामले की सीबीआइ से जांच कराएंगे।

थानों के चक्कर लगा रहे मां-पिता

लापता बच्चों के अभिभावक रोजाना थानों के चक्कर लगाते हैं। वहां से एक ही जवाब मिलता है कि गुमशुदा बच्चों की तलाश कर रहे हैं। ये अभिभावक मायूस होकर लौट आते हैं। उन्हें उम्मीद है कि कभी न कभी तो उनका बच्चा मिल ही जाएगा।

कहां तुम चले गए...

आरके पुरम कालोनी के सुभाष ने बताया कि उनका छोटा बेटा दीपक 11वीं में पढ़ता था। 29 जून, 2017 को लापता हो गया। हरियाणा सहित कई प्रदेशों में उसकी तलाश की लेकिन कुछ पता नहीं चला। कष्ट निवारण समिति में भी पहुंचे। एसआइटी भी उसकी तलाश नहीं कर सकी। इसी तरह मुखीजा कालोनी के मुमताज ने बताया कि उनका 14 वर्षीय बेटा शाहिद और भांजा अखलाक लापता हैं। कोई तो उन्हें ढूंढ लाए।

दैनिक जागरण ने उठाया मुद्दा

बच्चों के लगातार लापता होने पर दैनिक जागरण यह मामला उठाया था। पानीपत की कई कालोनियों से बच्चे लापता हैं। यह मामला विधायक प्रमोद विज के संज्ञान में आया तो उन्होंने विधानसभा में इस मुद्दे को रखा। अब उम्मीद बंधी है कि इन बच्चों का कुछ पता चल सकेगा। किसी बड़े नेटवर्क का भी राज खुल सकता है।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

यह भी पढ़ें: पानीपत के एक घर में कई दिनों से निकल रहे थे कीड़े, खोदाई कराई तो निकले तीन नरकंकाल

यह भी पढ़ें: दिल्ली के आनंदा योगाश्रम के अध्यक्ष को 1.30 करोड़ दान देने के लिए पानीपत बुलाया, 22.25 लाख ठगे

यह भी पढ़ें: यमुनानगर में दर्दनाक हादसा, लोग चीखते रहे, छह साल की मासूम के ऊपर से गुजर गया स्‍कूली बस का पहिया