कुरुक्षेत्र, जागरण संवाददाता। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने वर्ष 2021-22 की परीक्षा के लिए स्कूलों से 10वीं और 12वीं कक्षा के विद्यार्थियों की सूची मांगी है। बोर्ड ने स्कूलों प्रमुखों को पत्र लिखकर कहा है कि जो भी छात्र 2021-22 बोर्ड परीक्षा में शामिल होना चाहते हैं, उनकी सूची 30 सितंबर तक जमा करें।

डीएवी स्कूल अध्यापक डा. अशोक कुमार सैनी ने बताया कि सीबीएसई के नोटिस के अनुसार सीबीएसई स्कूलों को बोर्ड की ओर से 17 सितंबर से बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर ई-परीक्षा लिंक पर जारी कर दिया थ्ज्ञा। जिस लिंक पर जाकर छात्रों की लिस्ट जमा करा सकते है। इसके बाद नवंबर-दिसंबर में बोर्ड पहली अवधि की परीक्षा आयोजित करेगा। सीबीएसई ने सभी स्कूलों से आग्रह किया कि वह समय से जानकारी भरें और सभी सूचनाएं पूरी तरह से ठीक हों।

छात्रों का नाम देने से पहले जांच जरूरी

सीबीएसई के पास किसी भी छात्र का नाम देने से पहले स्कूलों को यह सुनिश्चित करना होगा कि छात्र किसी अन्य बोर्ड में रजिस्टर्ड न हो। साथ ही वह छात्र उसी स्कूल का हो और नियमित रूप से कक्षाओं में शामिल हो रहा हो और वो किसी भी गैर-एफिलिएटिड स्कूल से न हो। जिन छात्रों का नाम 30 सितंबर तक बोर्ड के पास नहीं पहुंचता, उनका रजिस्ट्रेशन कराने के लिए लेट फीस जमा करनी होगी। 1 से 9 अक्टूबर के बीच लिस्ट सबमिट करने लिए विंडो फिर से खुलेगी, लेकिन इस बार हर उम्मीदवार की लेट फीस 2000 रुपये होगी।

सीबीएसई ने 10वीं व 12वीं बार्ड के विद्यार्थियों के फार्म 30 सितंबर तक जमा कराने होंगे। इसलिए स्कूल समय अनुसार बोर्ड के विद्यार्थियों के फार्म प्रक्रिया को पूरी कर लें। इसके साथ ही 9वीं और 11वीं के विद्यार्थियों के फार्म भी चेक करे।

गीतिका जसूजा, को-आर्डिनेटर, सीबीएसई, कुरुक्षेत्र।

Edited By: Anurag Shukla