जागरण संवाददाता, पानीपत : गांधी कॉलोनी के अमन को कार चलाने का शौक था। कार खरीदने की हैसियत नहीं थी तो कार चुराई और बेखौफ होकर शहर की सड़कों पर 11 दिन तक घुमाता रहा। 10 जुलाई को तेल खत्म हुआ तो कार में पेट्रोल की जगह डीजल डलवाया। इसी वजह से असंध रोड स्थित निरंकारी सत्संग भवन के पास कार इंजन खराब हो गया। आरोपित ने कार ठीक करवाने के लिए मैकेनिक को आधार कार्ड की कापी व मोबाइल नंबर दे दिया। पुलिस को कार खड़ी होने की सूचना मिली। रविवार को आरोपित अमन को गांधी कॉलोनी से गिरफ्तार कर लिया। आरोपित अमन को अदालत में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया। नंद विहार कॉलोनी के पंकज ने पुलिस को शिकायत दी कि उसका जाटल रोड पर शिवम कार बाजार के नाम से कार खरीदने व बेचने का काम है। 27 जून को शाम को उसने जाटल रोड पर चौधरी अस्पताल के पास खाली प्लाट में होंडा सिटी कार खड़ी की थी। 28 जून को सुबह देखा तो कार चोरी कर ली गई थी। आठ मरला चौकी पुलिस ने मामला दर्ज किया। हवलदार ने सत्संग भवन के पास खड़ी मिली कार आठ मरला चौकी प्रभारी एसआइ राजबीर ¨सह ने बताया कि हवलदार रमेश कार चोर की तलाश में थे। 10 जुलाई को हवलदार रमेश को सूचना मिली कि सत्संग भवन के पास होंडा सिटी कार खड़ी है। मौके पर जाकर देखा तो कार पंकज की थी। आसपास के मैकेनिक से पूछताछ की। एक मैकेनिक ने बताया कि कुछ दिन पहले कार खराब हो गई थी। एक युवक आधार कार्ड और मोबाइल नंबर देकर कार ठीक करने को बोल गया था। कार ठीक कर दी गई थी। कार ले जाने के लिए युवक के नंबर पर कई बार कॉल की, लेकिन युवक आया नहीं। आरोपित अमन को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में अमन ने बताया कि वह जाटल रोड गुरुद्वारा के पास मैकेनिक के पास कार वा¨शग का काम करता था। 27 जून को वह रात को 12 बजे जाटल रोड पर घूम रहा था। इसी दौरान उसने लावारिस खड़ी कार को मास्टर चाबी से स्टार्ट किया और चलाता रहा। वह गाड़ी घर ले जाने की बजाय असंध व जाटल रोड ओवरब्रिज के पास खड़ी कर देता था। पहले भी वह दो बार कार चुरा चुका था। कार को चलाकर वह वहीं पर छोड़ देता था। थाने में शिकायत दर्ज नहीं हुई थी।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस