जागरण संवाददाता, पानीपत : भारतीय किसान यूनियन ने गन्ने का भाव 340 से 400 रुपये प्रति क्विटल करने की मांग को लेकर शनिवार को गोहाना रोड स्थित सहकारी शुगर मिल में रोष प्रदर्शन किया। किसानों ने भाव न बढ़ाए जाने पर गठबंधन सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की। भाकियू पदाधिकारियों ने कहा कि सरकार जल्द ही गन्ने का भाव नहीं बढ़ाती है तो प्रदेश स्तरीय बैठक बुला आगामी आंदोलन के लिए रणनीति तय की जाएगी। उन्हें मील में गन्ना लेकर पहुंचे किसानों ने भी समर्थन देने का वादा किया।

भाकियू के प्रदेश चीफ ऑर्गेनाइजर सचिव प्रताप माजरा ने कहा कि प्रदेश सरकार ने पिछले कई सालों में गन्ने का भाव मात्र 30 रुपये प्रति क्विंटल बढ़ाया है। जबकि इन सालों में गन्ने का लागत मूल्य बहुत बढ़ चुका है। लागत बढ़ने और आमदनी घटने से किसान को नुकसान हो रहा है। उन्होंने कहा कि जिन किसानों को पानीपत शुगर मिल द्वारा 31 दिसंबर तक की पेमेंट पुराने भाव से दी गई है। उन किसानों को भाव में वृद्धि करते हुए 400 रूपये प्रति क्विंटल के हिसाब से बकाया पेमेंट दी जाए। इस मौके पर प्रदेश कार्यालय सचिव बलजीत राठी, ऋषि नांदल, रामकुमार ढांडा, आजाद, अशोक डिकाडला, आदेश जौरासी, सुरजीत नंगला, रोहताश, ईश्वर मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस