जागरण संवाददाता, समालखा : भाजपा प्रत्याशी शशिकांत कौशिक दूसरी बार भाजपा के टिकट पर हलके से चुनाव लड़ रहे हैं। विधानसभा के 84 गांवों को कई बार नाप चुके हैं। केंद्र और राज्य सरकार की छवि पर जनता से वोट मांग रहे हैं। चुनाव में व्यस्तता के कारण उनका पूरा शेड्यूल बिगड़ गया है। उनके जगने, नहाने, पूजा करने, खाने और सोने का कोई समय नहीं है। जनता से मिलना और जनसभा में भाग लेना ही उनकी प्राथमिकता है। चुनाव ने नेताजी की नींद हराम कर दी है। पूजा के लिए पर्याप्त समय वे नहीं दे पा रहे हैं। सैर और व्यायाम भी उनका छूट गया है। दिनभर भाग-दौर होने से उनके चेहरे पर थकान साफ झलकती है।

अलसुबह चार बजे सिलसिला होता शुरू

शशिकांत कौशिक अल सुबह 4 बजे उठते हैं। नित्य क्रिया, सैर व व्यायाम से निवृत होकर ब्रह्ममुहूर्त में एक से डेढ़ घंटा नियमित पूजा व ध्यान करते हैं। चुनावी व्यवस्था के कारण उनका यह शेड्यूल खराब हो गया है। देर रात सोने के बावजूद भी शुक्रवार को 5 बजे उठे। दिन का शेड्यूल देखा। समर्थकों से विचार विमर्श करने के बाद फ्रेश होकर सुबह के शिफ्ट में प्रचार के लिए 5.40 बजे रेलवे स्टेशन पहुंचे। पौने 6 से 8 बजे तक ट्रेन पकड़ने वाले दैनिक यात्रियों से हाथ जोड़कर वोट का निवेदन किया। फिर स्टेशन परिसर के टी स्टॉल पर साथियों के साथ चाय पी। भटनागर गली स्थित जैन स्थानक में मत्था टेका। महाराज शुभम मुनि से आशीर्वाद लिया। एक शोकसभा में शिरकत करने के बाद रेलवे रोड के दुकानदारों से मिले। एक घंटे के भीतर स्नान और पूजापाठ कर समर्थकों से मिले और दोबारा पूर्व योजना के अनुसार चुनाव प्रचार पर निकल पड़े। खटीक बस्ती, सीताराम कालोनी, पुराना बस अड्डा, टाइट वैल फैक्ट्री, रेलवे रोड, अग्रवाल स्वीट्स, गढ़ीबेसक, वाल्मीकि बस्ती आदि 11 जगहों पर रात 8 बजे तक सभा को संबोधित करने सहित लोगों से आशीर्वाद लेते रहे। बीच में लोगों के फोन भी सुनते रहे। फोन से अपने कार्यकर्ताओं को निर्देश भी देते रहे। कांग्रेस पर साधते रहे निशाना

कौशिक ने लोगों से कहा कि वे राजनीति में लंबे रेस का घोड़ा है। उनकी सोच ऊंची है। वे हलके का विकास करना चाहते हैं। विरोधियों की तरह उनका भ्रष्टाचार और अपराध से कोई लेना-देना नहीं है। वे सीएम मनोहर लाल और पीएम नरेंद्र मोदी के नक्शे कदम पर बगैर भेदभाव के समाज की सेवा और विकास करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार के पांच साल के कार्यकाल को जनता देख चुकी है। उसी सरकार का हाथ मजबूत करने के लिए वे मैदान में हैं। हाथ मजबूत करने का समय आ गया है। वोट रूपी आशीर्वाद देकर बेदाग भाजपा को मजबूत करें।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप