करनाल, जागरण संवाददाता। करनाल के गांव कतलाहेड़ी में वीरवार अल सुबह उस समय हड़कंप मच गया जब दो मंजिला एक नवनिर्मित मकान ढह गया। जिससे जानी नुकसान होने से बच गया, लेकिन लाखों रुपये का नुकसान हो गया। हादसे में दो बच्चों सहित चार लोग चोटिल हुए हैं।

बताया जा रहा है कि गांव के राजपूत मोहल्ले में अनूप सिंह राणा ने करीब एक माह पहले ही अपना दो मंजिला मकान बनाया था और परिवार उसमें रहने लगा था। हर रोज की तरह वे अल सुबह करीब चार बजे सो रहे थे कि अचानक ही मकान ढह गया। मलबा गिरने से पत्नी सुनीता, पुत्रवधु सोनिया, बेटी सोनम, ढाई वर्षीय पोत्र द्रवित व दोहता अभि चोटिल हो गए।

हादसे से हुए धमाके की आवाज सुनकर आसपास के लोगों में भी हड़कंप मच गया और आनन-फानन में वे मौके पर पहुंचे तो हादसा देख दंग रह गए। देखते ही देखते पूरा गांव मौके पर जमा हो गया और मलबे से उन्हें निकाला और प्राथमिक ईलाज के लिए स्वास्थ्य केंद्र पर लेकर गए। मौके पर पहुंचा हर ग्रामीण नवनिर्मित मकान के ढहने से हैरान थे। वहीं सूचना मिलने पर जुंडला चौकी इंचार्ज मुकेश कुमार टीम के साथ मौके पर पहुंचे और हादसे का जायजा लिया। माना जा रहा है कि हादसा बारिश के चलते ही हुआ है।

सुबह करीब चार बजे जब यह हादसा हुआ तो उस समय भी बारिश शुरू हो चुकी थी। अनूप सिंह राणा का कहना है कि गनीमत रही वे परिवार सहित समय रहते बाहर निकल गए, अन्यथा बड़ा हादसा हो सकता था। बता दें कि बुधवार को जुंडला गेट क्षेत्र में भी एक मकान के कमरे की छत गिर गई थी, जिसमें भी परिवार के लोग हादसे का शिकार होने से बाल-बाल बच गए थे। यहीं नहीं एक सप्ताह पहले ही गांव बुढ़ाखेड़ा में भी एक मकान की छत गिर गई थी, जिसमें परिवार के तीन लोगों को गंभीर चोटें आई थी।

उधर अनूप सिंह राणा का कहना है कि हादसा बारिश के चलते ही हुआ है। गनीमत रही कि समय रहते आसपास के ग्रामीण पहुंच गए और उन्हें बाहर निकाल लिया, अन्यथा बड़ा हादसा हो सकता था।

Edited By: Anurag Shukla