पानीपत, जेएनएन - एक तो उधार रुपये दिए, ऊपर से पिटाई भी हो गई। रुपये वापस मांगे तो दुष्‍कर्म केस में फंसाने की धमकी दी। यह सब किया भी तो अपनों ने ही। मौसा को ही फंसाया जा रहा है। मौसी को भी पीटा गया। मामला पानीपत के विकास का नगर है। 

विकास नगर के विपिन ने पुलिस को शिकायत दी कि वह विकास नगर में रहने वाले परविंद्र का मौसा है। दो अगस्त 2016 को परविंद्र अपनी पूनम के साथ आया और काम दिलाने की गुहार लगाने लगा। उसको एक डाई हाउस में नौकरी दिलाई और कई बार आर्थिक मदद भी की। आरोपित उसके 7 लाख 62 हजार 800 रुपये नहीं लौटा रहे हैं। सेक्टर-29 थाना पुलिस ने आरोपित दंपती के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

प्लाट खरीदने से लेकर मकान निर्माण में मदद की, रुपये मांगे तो पीटा

विपिन ने बताया कि अप्रैल 2019 में आपोपित परविंद्र ने कहा कि 50 गज का प्लाट खरीदा है। फुल पेमेंट एग्रीमेंट करवाना है। इसकी एवज में उसे 80 और 2.40 लाख रुपये दिए। जनवरी 2020 में रुपये लौटाने को कहा। आरोपित ने बताया की खाली प्लाट बिक नहीं रहा है। 

मकान के कमरे बनवाए 

कमरे बनाने में मदद के दें तो मकान बिक जाएगा। दो कमरे, शौचालय और बाथरूम बनाने में खर्च किया। मकान बेचने को कहा तो आरोपितों ने मना कर दिया और दुष्कर्म के केस में फंसाने की धमकी दी। 15 जनवरी को वह और उसकी पत्नी रुपये मांगने गए तो आरोपित दंपती ने उन्हें डंडों से पीटा। उसे व पत्नी को भागकर जान बचाई। घायलों को सामान्य अस्पताल में दाखिल कराया।  

वाशिंग मशीन खरीदी, किस्त जमा नहीं कराई

विपिन ने पुलिस को बताया कि उसके नाम से फाइनेंस पर 18000 रुपये की वाशिंग मशीन खरीद थी। इसकी किस्त 2250 रुपये प्रति माह है। आरोपित ने किस्त जमा कराने से मना कर दिया। इसलिए किस्त उसे भरनी पड़ेगी। 

Edited By: Ravi Dhawan

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट