जागरण संवाददाता, पानीपत : एथलेटिक्स हरियाणा के महासचिव राजकुमार मिटान ने बताया कि एथलेटिक्स फेडरेशन आफ इंडिया राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं के लिए डिजिटल माध्यम से खिलाड़ियों का रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है। पूरे देश के खिलाड़ियों को समयानुसार सभी जानकारियां प्रदान की जा रही हैं और फेडरेशन भी राज्यों के खेल संघों को डिजिटलीकरण करने की राह पर चलने का दिशा निर्देश दे चुका है। इसकी पहल एथलेटिक्स हरियाणा ने शुरू कर दी है।

उन्होंने बताया कि एथलेटिक्स हरियाणा के डिजिटल होने से प्रदेश के सभी खिलाड़ी, प्रशिक्षक और उनके अभिभावक घर पर रहते हुए आनलाइन माध्यम से एथलेटिक्स से जुड़ी समस्त जानकारियां समय रहते प्राप्त कर सकेंगे। इसके अलावा भविष्य में होने वाली प्रतियोगिताओं की तैयारी कर सकेंगे जिससे अच्छे खेल परिणाम आने की संभावनाएं हैं।

प्रदेश के सभी खिलाड़ी एथलेटिक्स फेडरेशन आफ इंडिया की साइट पर जाकर एथलीट रजिस्ट्रेशन पेज खोलकर अपने जन्म और निवास स्थान सहित तथा साफ वर्तमान पासपोर्ट साइज फोटो के साथ अपने इवेंट से संबंधित संपूर्ण जानकारी डालें। आनलाइन खेल यूआइडी व पास पासवर्ड प्राप्त कर अपने पास सुरक्षित रखने का काम करेंगे। यूआइडी नंबर वाले ही खिलाड़ी जिला, राज्य व राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भाग ले सकते हैं। उन्होंने कहा कि भविष्य में होने वाली एथलेटिक्स चैंपियनशिप में किसी भी खिलाड़ी का आफ लाइन रजिस्ट्रेशन मान्य नहीं होगा। खिलाड़ी खेलने से वंचित रहने के लिए स्वयं जिम्मेदार होगा।

मीडिया प्रभारी सत्यवीर धनखड ने बताया कि राजकुमार मिटान ने सभी जिलों के सचिव और अध्यक्षों को दिशा निर्देश दे दिए गए हैं कि वे अपने जिले के सभी खिलाड़ियों के एथलेटिक्स फेडरेशन आफ इंडिया की वेबसाइट साइट पर रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी करा लें। यह प्रक्रिया सभी आयु वर्गों के खिलाड़ियों पर लागू की जा रही है।

Edited By: Jagran