पानीपत, जेएनएन। अहर गांव में सोमवार रात करीब साढ़े नौ बजे हर्ष फायरिंग करने से रोकने पर दूल्हे के दोस्त ने सहायक फोटोग्राफर को गोली मार दी। गोली पेट के आर-पार निकल गई। उसे तुरंत शहर के निजी अस्पताल में ले जाया गया, जहां उसने दम तोड़ दिया। मृतक चार बहनों का इकलौता भाई था। 

हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा के लाहडू गांव का सोहन भारद्वाज 30 साल से परिवार के साथ आजाद नगर में रह रहा था। सोहन की पहले भारद्वाज फोटो स्टूडियो के नाम से आजाद नगर में दुकान थी। डेढ़ साल पहले दुकान छोड़ घर से ही शादी समारोह की बुकिंग करने लगा था। सोमवार सुबह करीब 10 बजे विकास नगर स्थित जैन स्टूडियो का मालिक विजय 1000 रुपये देने की बात कहकर अहर गांव में सचिन फौजी की शादी में फोटोग्राफी कराने ले गया था।

 सचिन के घर के सामने गली में डीजे पर युवक नाच रहे थे और फायरिंग कर रहे थे। फोटोग्राफी कर रहे सोहन ने उन्हें गोली चलाने से मना किया। इस पर दूल्हे सचिन के दोस्त नन्हेड़ा के नरेश ने तैश में आकर रिवाल्वर से सोहन के पेट में गोली मार दी। सोहन को प्रेम अस्पताल ले जाया गया। मंगलवार अलसुबह करीब 3:30 बजे सोहन की मौत हो गई। 

उरलाना चौकी प्रभारी सचिन ने बताया कि नरेश रावल के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर लिया है। सोहन के माता-पिता गांव में रहते हैं। वे मंगलवार शाम को पानीपत पहुंचे। बुधवार को पोस्टमार्टम कराया जाएगा।  

सोहन को एक घंटे तक गाड़ी में घुमाते रहे 

वारदात के बाद वीडियो और ऑडियो वायरल हुआ है। इसमें सोहन बता रहा है कि वह डीजे के पास काम कर रहा था। तभी उसे गोली मार दी। वह नीचे जमीन पर गिर गया। कई युवक उसे अस्पताल में ले जाने के बजाय गाड़ी में एक घंटे तक इधर-उधर घुमाते रहे। उसे असहनीय दर्द हो रहा है। स्वजनों का आरोप है कि वारदात के बाद से फोटोग्राफर विजय ने भी सोहन की सुध नहीं ली। सोहन का कैमरा भी आरोपितों के पास है। वे वीडियो रिकॉर्डिंग डिलीट कर सकते हैं।  

शादी समारोह में नहीं चलने देंगे हथियार

अहर गांव के सरपंच रामदिया ने बताया कि सोहन की मौत से उन्हें सबक मिल गया है। वे जल्द ही पंचायत कर निर्णय लेंगे कि गांव में शादी समारोह में हथियार नहीं चलने देंगे। अन्य सरपंचों से भी ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए आह्वान किया जाएगा। वहीं पानीपत फोटोग्राफर एसोसिएशन के प्रधान कुलदीप राठी ने बताया कि वे बुधवार को सिविल अस्पताल में बैठक करेंगे और ऐसी घटनाओं को रोकने पर मंथन करेंगे। 

सोहन को गोली मारने के मामले की जांच की जा रही है। अगर जानबूझकर वारदात की गई है और आरोपित का हथियार लाइसेंसी है तो लाइसेंस रद किया जाएगा। फिलहाल चौकी इंचार्ज ने बिना किसी के बयान लिये अपने स्तर पर हत्या का केस दर्ज कर लिया है।

सुमित कुमार, एसपी।

Posted By: Anurag Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस