जागरण संवाददाता, पानीपत :

डीएम चंद्रशेखर खरे ने एंजल मॉल को सील करने के आदेश जारी किए हैं। आयुक्त नगर निगम ने एंजल माल को सील करने के लिए पुलिस फोर्स तथा ड्यूटी मेजिस्ट्रेट नियुक्त करने की मांग की थी। जिस पर जिला मेजिस्ट्रेट ने आगामी नौ जनवरी एंजल मॉल को सील करने के आदेश जारी किए। शुगर मिल के एमडी वीर सिंह को ड्यूटी मैजिस्ट्रेट नियुक्त किया गया है। साथ ही एसपी को पुलिस फोर्स देने के लिए निर्देश जारी किए गए हैं।

सील करने के आदेश मात्र ड्रामा : स्वामी

एंजल मॉल को सील करने के आदेश को जन आवाज सोसायटी के प्रधान जोगेंद्र स्वामी ने ड्रामा बताया। उन्होंने यहां जारी प्रेस बयान में कहा कि नगर निगम द्वारा केवल निगम टैक्स न देने के कारण इसको सील करने के आदेश आंखों धूल झोंकने के समान है। जिस भवन में बैंक्वेट हाल को बनाया गया है वह पूरा भवन ही अवैध है, क्योंकि इसको केवल 450.65 मीटर ही कवर किया जा सकता है, जबकि मौके पर 16 हजार स्क्वायर फीट अवैध रुप से बनाया गया है, जो नॉन कंपाउंड है। हुडा अधिकारी अपनी कमियों और मिलीभगत के चलते पल्ला झाड़ रहे हैं। सरकार को करोड़ों रुपये का सीधा चुना लगा रहे हैं। बिना किसी अनापत्ति सर्टिफिकेट के चल रहे इस मॉल को हुडा द्वारा सील करना चाहिए। अवैध भवन ध्वस्त होना चाहिए।

पूर्व मेयर ने उठाया था मामला

तीन जनवरी को पत्रकारवार्ता कर इस मामले को पूर्व मेयर भूपेंद्र ने उठाया था। उन्होंने आयुक्त नगर निगम पर एंजेल मॉल में टैक्स के नाम पर करोड़ों रुपये के घोटाले का आरोप लगाया था। बृहस्पतिवार को पूर्व मेयर ने सीएम विंडो पर इस एंजेल माल को सील करने और टैक्स में हुए करोड़ो रुपये की घोटाले की जांच की मांग की है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस