करनाल, जागरण संवाददाता। कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रोन को लेकर स्वास्थ्य विभाग अलर्ट है। विदेश से आने वालों की पहचान व जांच होगी। राज्य सरकार की ओर से विदेश से आने वाले की सूची दी जाएगी, उसकी पड़ताल होगी। नए वैरिएंट को देखते हुए सिविल सर्जन डा. योगेश शर्मा ने सभी हेल्थ सेंटरों पर तैनात चिकित्सकों को निर्देश दिए हैं कि वे सभी प्रकार की तैयारियां रखें। दक्षिण अफ्रीका, हांगकांग, ब्राजील, बांग्लादेश, यूनाइटेड किंगडम, न्यूजीलैंड और बेल्जियम से आने वाले लोगों पर खास नजर रहेगी।

सिविल सर्जन की ओर से सभी पीएचसी व सीएचसी प्रभारियों को कहा गया है कि इन देशों से आने वालों के कोरोना जांच भी कराएं। पहले एंटीजन किट से जांच कराएं। उसके बाद इनका आरटीपीसीआर जांच कराकर देखें । कोरोना संक्रमित मिलते हैं तो उनके पूरे परिवार की कोरोना जांच कराएं। उसके संपर्क में आने वालों की जांच होगी। आशा वर्कर्स उनके ऊपर नजर रखेंगी। अगर वह बीमार होता है तो उसका इलाज होगा।

जिले में कोरोना संक्रमण की स्थिति

सोमवार को जिले में कोरोना का कोई भी नया कोरोना केस नहीं मिला है। सिविल सर्जन की रिपोर्ट के अनुसार बताया कि जिले में अब तक 589520 व्यक्तियों के सैंपल लिए गए। 546907 व्यक्तियों की रिपोर्ट नेगेटिव आई। पिछले 24 घंटे में 1034 सैंपल लिए गए। जिले में अब तक 40039 केस सामने आए थे, जिनमें 39485 मरीज ठीक होकर घर चले गए। जिले में अब तक 553 कोरोना मरीजों की मृत्यु हो चुकी है। इस समय कोरोना का महज एक केस सक्रिय है। उसे होम आइसोलेशन में रखा गया है।

सभी पीएचसी व सीएचसी में आइसोलेशन किट उपलब्ध

सिविल सर्जन डा. योगेश शर्मा ने बताया कि जिले की सभी पीएचसी व सीएचसी में होम आइसोलेशन किट उपलब्ध हैं। इसके साथ ही सिविल सर्जन कार्यालय में किटों की उपलब्धता है। अभी हालात सामान्य हैं। फिर भी नए वैरिएंट को देखते हुए अलर्ट किया गया है। विभाग हर प्रकार की चुनौती से निपटने के लिए तैयार है। सामान्य व आक्सीजन बेड की पर्याप्त मात्रा में उपलब्धता है। आवश्यकतानुसार हर प्रकार के इंतजार किए जाएंगे। स्थिति पर लगातार निगाह रखी जा रही है।

Edited By: Anurag Shukla