जागरण संवाददाता, पानीपत : सेक्टरवासी एन्हांसमेंट पर तीन जजों की रिपोर्ट के बाद भी सरकार की चुप्पी पर आर-पार की लड़ाई के लिए आगे आ गए हैं। एचएस हुडा सेक्टर्स कांफिडरेशन ने नौ जुलाई से पानीपत में एक बार फिर अनिश्चितकालीन धरना देने की चेतावनी दी है। सेक्टरवासियों ने साफ किया कि इस बार वे एन्हांसमेंट के नोटिस वापस लेने के बाद ही धरने से उठेंगे। ऑल सेक्टर्स रेजीडेंट्स वेलफेयर एसोसिएशन ने एन्हांसमेंट और मूलभूत सुविधाओं की मांग को लेकर हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के अधिकारियों को मंगलवार को ज्ञापन सौंपा। सेक्टरवासियों को ईओ योगेश राणा ने मिलने का समय दिया था लेकिन वहां नहीं मिले। इसके सेक्टरवासी भड़क गए और उनके व्यवहार के खिलाफ आंदोलन की चेतावनी दी। जिला संयोजक बलजीत ¨सह ने कहा कि प्राधिकरण ने 10-20 सालों पुराने कोर्ट आदेशों पर मूल राशि पर 15 प्रतिशत तक ब्याज लगाकर सेक्टरवासियों को नोटिस दिए हैं। वे इसके विरोध में डेढ़ साल से एचएस हुडा सेक्टर्स कांफिडरेशन के बैनर तले प्रदर्शन और रैली कर चुके हैं। मुख्यमंत्री और अधिकारियों तक को ज्ञापन सौंपा जा चुका हैं। मुख्यमंत्री ने दिसंबर 2018 में हिसार में एन्हांसमेंट की री-कैल्कुलेशन करने की घोषणा की थी, लेकिन अब तक इस पर काम शुरू नहीं हुअस है। उन्होंने बताया कि प्रदेश संयोजक यशबीर मलिक की मांग पर सरकार ने तीन जजों की कमेटी बनाई थी। कमेटी अपनी रिपोर्ट में एन्हांसमेंट को गलत बता चुकी है, लेकिन प्राधिकरण नोटिसों को वापस नहीं ले रहा है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस