पानीपत/कैथल, जेएनएन। मूंदड़ी गांव के एक युवक की हत्या कर शव खेतों में फेंक दिया। सुबह जब किसान खेत में गए तो शव पड़ा हुआ देख पहचान होने पर परिजनों को बताया। सूचना मिलने के बाद स्‍वजन परिजन मौके पर पहुंचे। पूंडरी थाना पुलिस इंचार्ज विरेंद्र सिंह ने भी पुलिस टीम के साथ मौके का दौरा किया।  

मृतक के शरीर पर चोट के निशान मिले हैं। गले से चांदी की चैन भी टूटी हुई थी, जो शव के नजदीक पड़ी थी। इसे देखकर ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि मरने से पहले आरोपितों के साथ हाथापाई हुई होगी। पुलिस ने इस मामले में मृतक के भाई की शिकायत पर अज्ञात आरोपितों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

रातभर खोजते रहे परिजन, सुबह लगा पता 

साकरा गांव निवासी मृतक के मामा के लड़के मोहनलाल ने बताया कि उसका ममेरा भाई मूंदड़ी गांव निवासी 20 वर्षीय दीपक उर्फ दीपू अविवाहित था, जो मंगलवार को दिन में मोटरसाइकिल पर सवार होकर चूहड़माजरा गांव में आयोजित हुए एक धार्मिक कार्यक्रम में भाग लेने के लिए गया था। शाम को करीब सात बजे घर आया और कुछ देर बाद ही वहां से चला गया, लेकिन दोबारा वापस नहीं आया। कई घंटे बाद जब वापस नहीं लौटा तो परिजनों की चिंता बढ़ गई। उसके मोबाइल नंबर पर कॉल की तो बंद मिला। 

रात भर खोजते रहे स्‍वजन

रातभर स्‍वजन इधर-उधर खोजते रहे, लेकिन कुछ पता नहीं चल पाया। सुबह करीब सात बजे स्‍वजनों के पास गांव के ही एक व्यक्ति का फोन आया तो उसने घटना के बारे में बताया तो स्‍वजनों के पांव तले से जमीन खिसक गई। मृतक के छोटे भाई रोहित का आरोप है कि उसके भाई की हत्या कर शव खेतों में फेंका गया है। पुलिस जल्द से जल्द आरोपितों को गिरफ्तार करे। 

पूंडरी पुलिस थाना एसएचओ विरेंद्र सिंह ने बताया कि पुलिस ने युवक की हत्या के मामले में अज्ञात युवकों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा होगा कि हत्या कैसे की गई है। इस मामले को लेकर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। 

 

Posted By: Anurag Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस