जागरण संवाददाता, पानीपत : नगर पालिका कर्मचारियों की हड़ताल में निगम कमिश्नर के किसी तरह का फैसला न लेने पर निगम में काम और शहर में सफाई के बिगड़ते हाल को देखते हुए प्रशासन एक्शन में आ गया है। एडीसी ने डीसी ऑफिस में छुट्टी के दिन निगम कमिश्नर व पुलिस अधिकारियों व पार्षदों के साथ बैठक कर विस्तार से चर्चा की। प्रशासन ने सफाई में पार्षदों का सहयोग मांगा और पुलिस अधिकारियों को डोर-टू-डोर कूड़ा उठान में लगी जेबीएम कंपनी को सुरक्षा मुहैया कराने के आदेश दिए। कंपनी ने पुलिस सुरक्षा के बीच शनिवार देर शाम को करीब 140 टन कूड़ा उठाया।

एडीसी सुजान ¨सह यादव ने शनिवार को डीसी ऑफिस के मी¨टग हाल में अधिकारियों की बैठक ली। जिसमें निगम कमिश्नर शिवप्रसाद शर्मा, ज्वाइंट कमिश्नर सुमन भांखड़, एसडीएम पानीपत विवेक चौधरी, डीएसपी सिटी राजेश लोहान और पार्षदों की मी¨टग ली। उन्होंने निगम अधिकारियों से कर्मचारियों की हड़ताल से बिगड़ी स्थिति की रिपोर्ट ली और ¨चता व्यक्त की। उन्होंने कहा कि निगम में एक भी कर्मचारी नहीं है। अधिकारी तक अपने ऑफिसों में जाने से डरते हैं। शहर में डोर-टू-डोर कूड़ा उठान तो दूर बाजारों व मुख्य सड़कों से कूड़ा नहीं उठ पा रहा है। यह बहुत ही गंभीर है। जेबीएम कंपनी के एजीएम विपुल शर्मा ने बताया कि कंपनी कूड़ा उठान को तैयार है, लेकिन उनके कर्मचारियों के साथ मारपीट तक को उतारु हो जाते हैं।

कंपनी को जरूरत पड़ने पर दी सुरक्षा

एडीसी ने कंपनी को सुरक्षा का भरोसा दिया। उन्होंने डीएसपी राजेश लोहान को आदेश दिए कि कंपनी किसी भी थाना पुलिस से जरूरत पड़ने पर मदद मांग सकती है। कंपनी ने इसके बाद किला मैदान व सनौली रोड से शाम को कूड़ा उठाया। किला व थाना शहर प्रभारी खुद मौके पर पहुंचे। कंपनी के एजीएम विपुल शर्मा ने बताया कि 50 कर्मियों को साथ लेकर 140 टन कूड़े का उठान किया है।

कंपनी नौ वार्डों और चार प्वाइंट से उठाएगी कूड़ा

प्रशासन ने कंपनी को सनौली रोड कमल फर्नीचर, बस अड्डा के नजदीक सुखदेव नगर, तहसील कैंप फतेहपुरी चौक, वीर भवन चुंगी और असंध रोड पुल के नीचे सेकेंडरी प्वाइंट से कूड़ा उठाया जाएगा। इसके अलावा वार्ड 2, 3, 4, 7, 8, 9, 11, 15, 17 और 19 में रविवार को कूड़ा उठान का अभियान चलाया जाएगा।

कर्मचारियों ने चौथे दिन शनिवार को किया प्रदर्शन

नगर पालिका कर्मचारी संघ ने शनिवार को चौथे दिन पालिका बाजार कार्यालय पर प्रदर्शन कर सरकार विरोधी नारेबाजी की। शाखा प्रधान सुभाष चंडालिया ने कहा कि कर्मचारी अपनी मांगों पर अडिग हैं। वे मांगों को लागू होने पर ही काम पर लौटेंगे। संघ किसी कर्मचारी को काम पर जाने से नहीं रोक रहा, बल्कि कर्मचारी ही काम पर जाना नहीं चाहते।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस