पानीपत/कैथल, जेएनएन। कैथल में दो हत्या की वारदात से लोगों में दहशत है। तितरम थाना के तहत आने वाले क्षेत्र में एक युवक और एक अधेड़ व्यक्ति की हत्या कर दी गई। पिलनी निवासी युवक की हत्या रेशम के धागे से गला घोंटकर की गई है। परिजनों ने इस मामले में सेगा के एक व्यक्ति पर शक जाहिर किया है। यह वारदात तीन नवंबर की रात को हुई है। वहीं, 2 नवंबर की रात को बिहार के गांव जिवछपुर निवासी छेदन पासवान की हत्या कर शव देवबन गांव के खेतों में डाल दिया। 

50 वर्षीय छेदन अपने गांव के कुछ अन्य लोगों के साथ जखौली गांव में किसी किसान के यहां धान कटाई के लिए आया था। बताया जा रहा है कि रात को दो अन्य मजदूरों के साथ खाना खाने के बाद वापस कमरे पर लौट रहे थे। तीनों में किसी बात को लेकर झगड़ा होने पर थप्पड़-मुक्कों से हमला कर उसकी हत्या की गई है। पुलिस ने दोनों मृतकों के शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया है। हत्यारोपितों की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस जांच कर रही है। 

पत्नी को दवाई लेने की बात घर से निकला था, वापस नहीं लौटा

पिलनी गांव निवासी संजय कुमार ने बताया कि उसका भाई 36 वर्षीय कृष्ण कुमार गांव में ही खेती कर परिवार का पालन-पोषण कर रहा था। रविवार शाम को अपनी पत्नी से दवाई लेने की बात कह घर से निकला था, लेकिन वापस नहीं लौटा। चार नवंबर को सुबह उसका शव काकौत-पिलनी गांव के बार्डर के पास मिला। सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची। शव की पहचान होने पर परिजनों को बुलाया गया। 

वारदात के बाद से घर नहीं पहुंचा आरोपित

 ग्रामीणों के अनुसार शाम के समय वह सेगा के एक व्यक्ति के साथ देखा था। उक्त व्यक्ति भी वारदात के बाद से घर पर नहीं है। परिजनों ने उसी पर इस वारदात को अंजाम देने के लिए शक जाहिर किया है, जिसे लेकर पुलिस जांच कर रही है। मृतक अपने पीछे पत्नी, दो बेटियां व एक बेटा छोड़ गया। वहीं हत्या की इस वारदात से परिजनों में रोष है। 

ज्वार के खेतों में पड़ा मिला शव

देवबन गांव निवासी वजीर सिंह ने बताया कि करीब दो साल से जखौली गांव निवासी रामनिवास के खेतों को उसने ठेके पर लिया हुआ है। 3 नवंबर को वह खेत में ज्वार लेने के लिए गया था। ज्वार काटने के बाद देखा की खाली खेत में घसीट के निशान थे व ये निशान ज्वार वाले खेत की तरफ गए हुए थे। जब उसने खेत में ज्वार की फसल गिरी हुई देखी तो नजदीक जाने पर एक व्यक्ति का शव पड़ा हुआ था। इसकी सूचना गांव में जाकर खेत मालिक रामनिवास को दी। मौके पर गांव के सरपंच राजेंद्र सिंह को बुलाया गया। 

वोटर आइडी कार्ड से हुई पहचान

मृतक की जेब से मिले पर्स में वोटर कार्ड के आधार पर उसकी पहचान बिहार के गांव जिवछपुर निवासी करीब 50 वर्षीय छेदन पासवान के रूप में हुई।  किसी अज्ञात ने हत्या कर शव यहां खेतों में डाल दिया। सूचना मिलने के बाद तितरम थाना पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस अनुसार छेदन कई दिन पहले गांव जखौली में अन्य मजदूरों के साथ धान कटाई के लिए घर से आया था। 2 नवंबर की रात को दो अन्य मजदूरों के साथ खाना-खाने के बाद वापस कमरे पर जा रहा था जहां झगड़ा होने पर उसकी हत्या कर दी। इसके बाद आरोपित खेत में शव डालकर फरार हो गए। शिनाख्त होने के बाद परिजनों को कैथल बुलाया गया। पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

क्षेत्र में हत्या की यह चौथी वारदात

तितरम थाना के तहत आने वाले क्षेत्र में हत्या की यह चौथी वारदात है। अभी तक एक मामले में ही पुलिस आरोपितों को पकडऩे में सफल रही है। 8 अक्टूबर को तीन साल की मासूम बच्ची के के साथ दुष्कर्म कर हत्या करने के आरोपितों की आज तक भी गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। अब हत्या की दो वारदात होने के बाद से क्षेत्र के लोगों में दहशत का माहौल है। 

जांच की जा रही 

हत्या की दो अलग-अलग वारदातों के बाद पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। आरोपितों की गिरफ्तारी को लेकर टीमों का गठन करते हुए जांच की जा रही है। 

-इंस्पेक्टर मुकेश कुमार, एसएचओ, थाना पुलिस, तितरम।

Posted By: Anurag Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस