पानीपत/यमुनानगर, जेएनएन। यमुनानगर में चोर-चोर का शोर सुनकर चोरी कर रहे बदमाश को भागना महंगा पड़ गया। कूदने के चक्‍कर में छत से गिरकर एक चोर की मौत हो गई, जबकि दूसरा घायल हो गया। वहीं तीसरा साथी भागने में सफल रहा। मौके पर जुटे व्यापारियों ने घायल चोर को पकड़ लिया। पुलिस चोर को लेकर अस्पताल गई। पूछताछ में सामने आया कि सभी राजस्थान के रहने वाले हैं।  

घटना यमुनानगर के मीना बाजार की है। मीना बाजार में शोरूम के पीछे मकान बने हैं। करीब तीन बजे शोरूम से छत तोड़े जाने की आवाज आ रही थी। लोग जग गए और शोरूम के मालिक और पुलिस को फोन कर दिया। कुछ ही देर में भीड़ जुट गई और शोरूम में मालिक भी वहां आ पहुंचे। 

एक के बाद एक शटर खुले

मालिकों ने एक-एक करके दुकानों को खोलना शुरू किया। पहली गारमेंट्स की दुकान में कुछ नहीं हुआ था। जबकि एक दुकान से करीब सवा लाख रुपये चोर ले गए थे। जब दुकानदारों ने छत पर जाकर देखा तो टार्च और कुछ लोहे के औजार पड़े थे। वहीं तीसरी दुकान में भी चोरों ने चोरी का प्रयास किया, लेकिन कामयाब नहीं हुए। 

 panipat

दुकान के पास गिरे चोर

दुकानदारों ने बताया कि चोरों को लोगों के आने की भनक लग गई थी। चोर को भागते लोगों ने देखा। लेकिन उन्हें पकड़ा नहीं जा सका। जब दुकान के पास पहुंचे तो वहां एक चोर मरा पड़ा था, जबकि दूसरा घायल था। शिवम कलेक्शन के मालिक ने बताया कि उनकी दुकान से करीब सवा लाख रुपये चोर ले गए। जब चोरों का पीछा किया गया तो दो चोर छत से कूदने में गिर गए। एक की मौके पर मौत हो गई, जबकि दूसरा घायल हो गया। वहीं तीसरा भाग निकला। पुलिस मौके पर पहुंची और घायल का मेडिकल करवाया। 36 वर्षीय संदीप की मौत हुई, जबकि नीतेश घायल है। वहीं कैलाश फरार है। तीनों बसवाड़ा राजस्थान के रहने वाले हैं। 

Edited By: Anurag Shukla