पानीपत/जींद, जेएनएन। दिल्ली-फिरोजपुर रेलवे लाइन पर बीती रात बड़ा हादसा टल गया। हुआ यूं कि उचाना रेलवे स्टेशन के पास जींद से जाखल जा रही पैसेंजर ट्रेन के इंजन से पटरी पर रखा लोहे का टुकड़ा टकरा गया। इससे ट्रेन बेपटरी होने से बाल-बाल बच गई। घटना की सूचना पाते ही राजकीय रेलवे थाना प्रभारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और स्थिति का जायजा लिया। उचाना रेलवे स्टेशन मास्टर की शिकायत पर आरपीएफ ने अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी। 

दिल्ली से चलकर जींद होते हुए जाखल की तरफ पैसेंजर ट्रेन बीती रात जब उचाना रेलवे स्टेशन के पास सिग्नल को पार कर लूप लाइन में इंट्री कर रही थी, तभी इंजन के साथ कुछ ठोस चीज के टकराने की आवाज हुई। चालक ने ट्रेन के ब्रेक लगाए और नीचे उतरकर चेक किया तो यह लोहे की टुकड़ा मिला, जो लगभग पांच फुट लंबा था। यह लाइन पर रखा हुआ था। ट्रेन की स्पीड उस समय कम थी, इसलिए हादसा टल गया।

अगर ट्रेन स्पीड में होती तो यह पटरी से भी उतर सकती थी। ट्रेन चालक ने रनिंग स्टाफ की सहायता से लोहे के टुकड़े को उचाना रेलवे स्टेशन मास्टर को सौंप दिया। आरपीएफ के निरीक्षक सुरेश ने बताया कि रेलवे लाइन पर लोहे का बड़ा टुकड़ा रखा गया था, जो दिल्ली-जाखल पैसेंजर ट्रेन के इंजन से टकरा गया। इस मामले की गंभीरता से जांच की जा रही है। उचाना रेलवे स्टेशन मास्टर जेएस कुंडू ने बताया कि यह किसी शरारती तत्व का भी काम हो सकता है। मामले की जांच आरपीएफ द्वारा की जा रही है। 

Posted By: Anurag Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस