यमुनानगर, जेएनएन। यदि किसी को बुखार है, तो उससे घबराने की जरूरत नहीं है। ऐसा नहीं है कि उसे कोरोना संक्रमण हो, लेकिन जांच करानी जरूरी है। पहले कोविड अस्पताल में ही जांच की सुविधा थी, लेकिन अब तक कई सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भी सैंपल लिए जा रहे हैं। इसके साथ ही जिले में पांच निजी लैब को कोविड टेस्ट के लिए अधिकृत किया गया है।

कोरोना के केस बढऩे के साथ ही अब सैंपलों की भी संख्या भी बढऩे लगी है। सरकारी अस्पतालों में सैंपलों के लिए आने वालों की लाइन लगी रहती है। रोजाना 800 से एक हजार के बीच कोरोना के सैंपल लिए जा रहे हैं। सैंपल कराने के लिए आने वाले लोगों को भी इंतजार करना पड़ रहा है। कुछ ऐसे भी लोग हैं, जो निजी लैब से जांच करा रहे हैं। यह व्यवस्था इसलिए की गई है। जिससे सैंपलों को लेकर किसी को परेशानी न आए।

आरटी-पीसीआर सैंपल का रेट 450 रुपये  

जिले में निधि लैब, को डायग्नोस्टिक, मार्डन लैब, पैथ काइंड व लाल पैथ लैब को कोविड के सैंपल लेने के लिए अधिकृत किया गया है। इसके लिए 450 रुपये की फीस निर्धारित की गई है। यदि कोई अधिक फीस वसूलता है, तो उस पर कार्रवाई भी विभाग की ओर से की जा सकती है। इसके साथ ही कोई अन्य निजी लैब जिले में कोविड सैंपल के लिए अधिकृत नहीं है। काफी लोग निजी लैब भी सैंपल करा रहे हैं।

ये भी हो चुका है सरकारी अस्पताल में

कई बार सरकारी अस्पताल से सैंपल की रिपोर्ट किसी दूसरे के नाम पर चढ़ चुकी है। गत वर्ष एक मरीज की मौत हो गई थी। पहले उसकी रिपोर्ट नेगेटिव बताते हुए शव को स्वजनों को सौंप दिया गया था। बाद में उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव मिली, तो नगर निगम की टीम ने शव को कब्जे में लेकर संस्कार कराया था।

पानीपत की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

यह भी पढ़ें:  कोरोना महामारी के बीच आई नई मुसीबत, ऑक्सीजन भी होने लगी चोरी, पानीपत रिफाइनरी का टैंकर ले उड़े चोर

यह भी पढ़ें: 'सॉरी' लिखकर चोर ने लौटाई कोरोना वैक्सीन, हरियाणा में सामने आया चौकाने वाला मामला

यह भी पढ़ें: हरियाणा के जींद में लस्‍सी में गिरी छिपकली, पीने से 2 की मौत, 5 की हालत गंभीर


यह भी पढ़ें: बेटी पूरे कर रहे टैक्सी चालक पिता के ख्‍वाब, भाई ने दिया साथ तो कामयाबी को बढ़े हाथ

यह भी पढ़ें: पानीपत में बढ़ रहा कोरोना, बच्‍चों को इस तरह बचाएं, जानिये क्‍या है शिशु रोग विशेषज्ञ की सलाह

यह भी पढ़ें: चोट से बदली पानीपत के पहलवान की जिंदगी, खेलने का तरीका बदल बना नेशनल चैंपियन

Edited By: Anurag Shukla