जागरण संवाददाता, समालखा : मच्छरौली स्थित 33 केवी बिजली सब स्टेशन में 11 बजे के करीब धमाके के साथ इंकमिंग ट्रांसफार्मर की वीसीबी जल गई। तीन गांव की आबादी सहित खेतों और बिहोली इंडस्ट्रियल फीडर की सप्लाई बंद हो गई, जिसके बाद लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा। रात 8 बजे तक बिजली सप्लाई चालू नहीं हो सकी थी। बिजली कर्मी फाल्ट दूर करने में जुटे थे। उल्लेखनीय है कि 33 केवी मच्छरौली फीडर से मच्छरौली, करहंस, झट्टीपुर की आबादी सहित खेतों व बिहोली इंडस्ट्रियल फीडर को सप्लाई जाती है। सूत्रों के अनुसार वहां की इंक¨मग ट्रांसफार्मर की वीसीबी सुबह 11 बजे के करीब धमाके के साथ ब्लास्ट कर गई। सब स्टेशन से जुड़े सातों फीडर की सप्लाई बंद हो गई। उच्चाधिकारी को शाम तक घटना के बारे में जानकारी नहीं थी। वहीं पावर हाउस के बंद होने की सूचना के बाद बैठक से लौटे एसडीओ भी मौके पर पहुंचे। शाम 8 बजे तक पावर हाउस को चालू करने का प्रयास चलता रहा। एसडीओ दलजीत वर्मा ने कहा कि एक घंटे तक सप्लाई चालू कर दी जाएगी। वहीं एक्सईएन डीएस छिक्कारा ने कहा कि उन्हें इसकी पूर्व सूचना नहीं थी। एसडीओ को मौके पर भेज दिया गया है। दूसरी वीसीबी लाकर सब स्टेशन को चालू करने कहा गया है।

फाल्ट से हैं परेशान : सरपंच पति

बलराज ¨सह, रोहताश, कप्तान, बलवान, ¨रकू आदि ने कहा कि मच्छरौली पावर सब स्टेशन की सप्लाई में लगातार आ रही खराबी से वे परेशान हैं। उन्होंने कहा कि एक तो दिन में दो घंटे बिजली आती है। दूसरी ओर खराबी के कारण वह भी नहीं मिल पाती। बुधवार को सुबह 11 बजे से उनकी सप्लाई बाधित है। लोगों के कामकाज प्रभावित हुए हैं। पावर हाउस में एक्सट्रा वीसीबी भी नहीं है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप