मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, पानीपत : सिविल अस्पताल परिसर में तीन करोड़ से अधिक लागत से बनी बेसमेंट प्लस दो तल की वाहन पार्किंग बिल्डिंग बरसात के पहले मौसम को नहीं सह सकी। बिल्डिंग की छत से पानी टपकते हुए देखा जा सकता है। बता दें कि अस्पताल की नई बिल्डिंग के बेसमेंट में भी चार दिन पहले जलभराव हो गया था।

ओपीडी ब्लॉक, रेडियोलॉजिस्ट ब्लॉक, इमरजेंसी वार्ड के बाहर दोपहिया वाहन-कार आदि बेतरतीब ढंग से खड़े होते हैं। इससे मरीजों को आवागमन में परेशानी होती है। बाइक और साइकिल चोरी की घटनाएं भी हो रही हैं। इन दिक्कतों से निजात मिले, अस्पताल प्रशासन ने फरवरी में मल्टी स्टोरी वाहन पार्किंग को मरीजों-तीमारदारों और अस्पताल के कर्मचारियों के लिए खोला था। ट्रायल बेस पर आउटसोर्सिंग क्रमिक वाहनों की रखवाली के लिए लगाया गया है। छत से बरसात का पानी पहले प्रथम तल, इसके बाद ग्राउंड फ्लोर में खड़े वाहनों पर गिरता है।

डिप्टी एमएस एवं बिल्डिंग प्रभारी डॉ. अमित पोडिया ने कहा कि शिकायत मिली है, मरम्मत कराई जाएगी। बेसमेंट में बारिश के दौरान जलभराव न हो, इसके इंतजाम करा दिए हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप