जागरण संवाददाता, पानीपत

रक्षाबंधन पर्व भाई-बहन के पवित्र रिश्ते का प्रतीक है, यह तो सभी जानते हैं। ब्रह्माकुमारी बहनें पुरुष वर्ग को इसलिए राखी बांधती हैं ताकि उनसे व्यसनों-विकारों से मुक्त रहने की शपथ ले सकें। हर युवा रास्ते से गुजरती लड़की में अपनी बहन की सूरत देखे तो देश में रामराज्य लौट आएगा।

ओल्ड हाउसिग बोर्ड कॉलोनी स्थित ब्रह्माकुमारी सेवा केंद्र में आयोजित पत्रकार वार्ता में केंद्र प्रभारी ब्रह्माकुमारी कविता ने ये बातें कही। उन्होंने बताया कि संस्था की ओर से रक्षाबंधन का त्योहार पूरे सप्ताह मनाया जाता है। उन्होंने कहा कि समाज में रोजाना ऐसी घटनाएं घट रही हैं जिससे इस पवित्र त्योहार की महत्ता-साख को ठेस पहुंचती है। ऐसे मे सर्वशक्तिमान परमपिता को याद करके अच्छे संकल्प लेने की जरूरत है।

ज्ञान मानसरोवर निदेशक ब्रह्माकुमार भारत भूषण ने बताया कि अब तक व्यापारियों, चिकित्सकों, शिक्षकों,प्रशासनिक अधिकारियों सहित जेल में बंदियों को राखी बांधी जा चुकी है। अंध महाविद्यालय सहित एनएफएल, थर्मल, रिफाइनरी के आसपास 50 गांव में जाकर रक्षाबंधन पर्व मनाया गया है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran