कुरुक्षेत्र, जेएनएन। ओलंपिक के लिए महिला और पुरुष भारतीय हाकी टीमों में हरियाणा के 11 खिलाड़ियों ने अपनी जगह पक्की की है। इनमें नौ बेटियां और दो बेटे हैं। पुरुष व महिला टीमों में चार खिलाड़ी कुरुक्षेत्र के हैं। इनमें महिला हाकी टीम में तीन खिलाड़ी अकेले शाहाबाद की हैं। खेल मंत्री संदीप सिंह ने इसको प्रदेश सरकार की खेल नीति का परिणाम बताया है और उन्होंने खिलाड़ियों और उनके परिजनों को शुभकामनाएं दी हैं। महिला हाकी टीम में रानी रामपाल, नवजोत व नवनीत शामिल हैं। शुक्रवार को पुरुष हाकी टीम में कुरुक्षेत्र के सुरेंद्र कुमार का चयन हुआ है।

देश को ओलंपिक मेडल जितवाने में कुुरुक्षेत्र की तीन बेटियां और एक बेटे का भी होगा योगदान

खेलमंत्री संदीप सिंह ने कहा कि खिलाड़ी एक बार फिर प्रदेश का गौरव बढ़ाने में कामयाब हुए हैं। इन खिलाड़ियों से सरकार को टोक्यो ओलंपिक में अपना सबसे बेहतरीन प्रदर्शन कर मैडल जीतकर लाने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि शाहाबाद के साथ-साथ पूरे देश के लिए यह गर्व की बात है कि जापान के टोक्यो में होने वाले ओलंपिक खेलों में भारतीय महिला हीकी टीम में शाहाबाद की तीन बेटियां रानी रामपाल, नवजोत कौर व नवनीत कौर के साथ-साथ नेहा, मोनिका, शर्मिला, निशा, सविता पूनिया, उदिता शामिल रहेंगी। लगातार दूसरी बार ओलंपिक जाने वाली टीम की कप्तानी रानी रामपाल करेंगी। इसके अलावा कुरुक्षेत्र के सुरेंद्र कुमार व सोनीपत के सुमित का चयन भारतीय पुरुष हाकी टीम में हुआ है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार खिलाड़ियों को हर प्रकार की सुविधाएं मुहैया करवाएगी।

उत्साह से लवरेज हैं खिलाड़ी

भारतीय महिला हाकी टीम की कप्तान रानी रामपाल ने कहा कि इस समय पूरी टीम का ध्यान ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीतने पर केंद्रित हैं और इस चैंपियनशिप में अच्छे परिणाम देने के लिए टीम का हर खिलाड़ी अभ्यास के दौरान पसीना बहा रहा है।

रानी ने कहा कि कोविड के दौरान भी टीम नियमों व अनुशासन में रहकर लगातार अभ्यास कर रही है। रानी ने कहा कि पिछले वर्ष कोविड के कारण ओलंपिक खेल रद हो गए थे। इस एक वर्ष का भरपूर फायदा टीम ने उठाया है और प्रेक्टिस में जमकर पसीना बहाया है। उन्होंने कहा कि उनका यह पसीना व्यर्थ नहीं जाएगा और निश्चित तौर पर गोल्ड जीतकर लौटेंगी।

Edited By: Sunil Kumar Jha