पानीपत/कैथल, जेएनएन। कैथल के किठाना गांव में एक छात्र की हत्या कर दी गई। छात्र परिवार का इकलौता बेटा था। माता पिता जब घर पहुंचे तो बेटे का शव फंदे पर लटका था और हाथ की नस कटी थी। पुलिस ने सात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। 

किठाना गांव में शाम को 10वीं कक्षा के छात्र अंकित का शव उसके ही घर में पंखे से लटका हुआ मिला। छात्र के हाथ की नस भी कट हुई थी। स्वजनों ने गांव के ही सात लोगों पर अंकित की हत्या कर शव को फंदे पर लटकाने का आरोप लगाया है। सूचना मिलने के बाद किठाना चौकी पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने इस मामले में हत्या सहित विभिन्न धाराओं के तहत आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज किया है। 

परिवार के लोग घर से बाहर थे

किठाना गांव के जसबीर सिंह ने बताया कि उसका 15 वर्षीय इकलौता बेटा अंकित गांव में स्थित केपीएस पब्लिक स्कूल में दसवीं कक्षा का छात्र था। सोमवार को स्कूल में पेपर देने के बाद वापस घर आया था। वह मजदूरी के लिए घर से बाहर गया था और पत्नी व बेटी प्लाट में पशुओं को चारा डालने के लिए गई हुई थी। 

मारपीट के बाद हत्या 

आरोप है कि बेटे को अकेला पाकर गांव के ही जाती राम, उनके बेटे इंद्र सिंह, महाबीर सिंह, सुंदर सिंह, इंद्र के बेटे दोलिया, कालिया व श्यामा ने मिलकर उससे मारपीट कर उसकी हत्या कर दी। जब इस बारे में जानकारी मिली तो वे घर पहुंचा तो बेटे का शव फंदे पर लटका हुआ था। 

मेडिकल की पढ़ाई कर रहा था छात्र

मामले की शिकायत पुलिस को दी गई। सूचना मिलने के बाद किठाना चौकी पुलिस की टीम ने घटनास्थल का दौरा किया। जसबीर का कहना है कि आरोपितों ने पुरानी रंजिश के चलते इस वारदात को अंजाम दिया। उसके बेटे की हत्या कर उसका घर उजाड़ दिया। बेटा उससे कहता था कि वे मेडिकल की पढ़ाई कर डाक्टर बनेगा। घर में गरीबी के बावजूद वह बेटा-बेटी को प्राइवेट स्कूल में पढ़ा रहा था। उसकी बेटी 12वीं कक्षा में नॉन-मेडिकल की पढ़ाई कर रही है।

Posted By: Anurag Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस