चंडीगढ़, जेएनएन। हरियाणा की भाजपा-जजपा गठबंधन की सरकार द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में राजनीतिक दलों ने किसानों की फसल की सही तरीके से खरीद किए जाने की चिंता की है। विपक्षी राजनीतिक दलों ने सरकार को सुझाव दिया कि किसानों की फसल खरीद में किसी तरह की दिक्कत नहीं आनी चाहिए और फसल खरीद सिस्टम की मानीटरिंग के लिए सरकार पुख्ता बंदोबस्त किए जाएं। उन्होंने राज्य में गेहूं खरीद केंद्र बढ़ाने का भी सुझाव दिया, जिसके बाद तय हुआ कि सरकार तीन गांवों का एक सेंटर बनाएगी तथा स्कूल, कालेजों, धर्मशाला व पक्के फर्श वाले सभी मैदानों में गेहूं खरीद केंद्र बनाए जाएंगे।

 हरियाणा के राजनीतिक दलों ने सर्वदलीय बैठक में उठाए किसान हित के मुद्दे

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने दूसरी बार सर्वदलीय बैठक बुलाने की पहल की है। पहली बार सर्वदलीय बैठक तब की गई थी, जब राज्य में लाकडाउन लागू हुआ था। बुधवार को हुई दूसरी सर्वदलीय मीटिंग में मुख्यमंत्री मनोहर लाल, डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला, गृह व स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज, पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा, विधानसभा में विपक्ष के पूर्व नेता अभय सिंह चौटाला, कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष कुमारी सैलजा, जजपा के प्रदेश अध्यक्ष सरदार निशान सिंह, निर्दलीय विधायकों की ओर से जेल मंत्री रणजीत सिंह चौटाला और हरियाणा लोकहित पार्टी के अध्यक्ष व विधायक गोपाल कांडा वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये शामिल हुए।

गेहूं खरीद के लिए पुख्ता मानीटरिंग सिस्टम तैयार करे हरियाणा सरकार

सर्वदलीय बैठक में किसानों के हितों की सभी राजनीतिक दलों ने चिंता की। हुड्डा, अभय चौटाला और सैलजा ने कई सुझाव दिए। साथ ही मजदूरों के हितों की चिंता करने की बात भी कही गई। बैठक के बाद डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला ने बताया कि राज्य सरकार किसानों की सरसों व गेहूं की फसल का एक-एक दाना खरीदेगी। 15 से 20 अप्रैल तक सरसों की खरीद होगी। यदि 20 अप्रैल से खरीद पूरी होने तक गेहूं की खरीद होगी। इस कार्य में करीब 10 हजार मेन पावर की जरूरत है। इस कार्य में पीडब्ल्यूडी और मार्केटिंग बोर्ड के कर्मचारियों समेत विभिन्न विभागों के कर्मचारियों का सहयोग लिया जाएगा।

सीएम मनोहरलाल के बुलावे पर बैठक में शामिल हुए हुड्डा, अभय, सैलजा, रणजीत, कांडा, दुष्यंत और विज

दुष्यंत चौटाला ने बताया कि राज्य में करीब 4500 कंबाइन मशीनें हैं। इसके अलावा पंजाब व मध्य प्रदेश से भी मशीनें पहुंच रही हैं। इन मशीनों की टेस्टिंग व रिपेयर के लिए परमिट देकर दुकानें खोलने का प्रावधान किया जा रहा है। इन मशीनों के संचालन के लिए जो भी लोग आएंगे, उनके भी कोरोना टेस्ट किए जाएंगे। गृह मंत्री अनिल विज ने बताया कि दूसरे राज्यों से आने वाली कंबाइन मशीनों की सघन जांच बोर्डर पर ही कर ली जाएगी।

दुष्यंत चौटाला के अनुसार फसल काटने से लेकर उसे मंडियों-खरीद केंद्रों तक बेचने की पूरी प्रक्रिया में शारीरिक दूरी के नियम का अनुपालन किया जाएगा। किसानों को हर समय मास्क पहननने को कहा जाएगा, ताकि किसी तरह के संक्रमण के शिकार न हो सकें। अगली फसल के लिए किसानों को काटन (कपास) के बीज की कोई कमी नहीं होने दी जाएगी।  मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने जनता से रूबरू होते हुए इस बैठक को बेहद सकारात्मक करार दिया है। 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

यह भी पढ़ें: हरियाणा में एक दिन में कोरोना के 40 पॉजिटिव मरीज मिलने से हड़कंप, अधिकतर तब्‍लीगी जमाती


यह भी पढ़ें: मौलाना साद के हरियाणा में छिपे होने के संकेत मिले, अनिल विज ने कहा- दो दिन में पकड़ लेंगे

 

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन के लिए पहरा दे रहे फौजी के हाथ की अंगुलियां काटीं, चार और युवक घायल

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस