चंडीगढ़, जेएनएन। हरियाणा सरकार ने परिवहन विभाग में भ्रष्टाचार पूरी तरह से खत्म करने की मंशा के साथ इसे पुलिस अधिकारियों के हवाले कर दिया है। सीआइडी प्रमुख रह चुके हरियाणा बिजली निगमों के चेयरमैन सीनियर आइपीएस अधिकारी शत्रुजीत कपूर को सरकार ने परिहवन विभाग का प्रधान सचिव नियुक्त किया है। पिछली सरकार में अनिल विज जब स्वास्थ्य मंत्री थे, तब उन्होंने कपूर पर अपनी सीआइ़डी कराने के आरोप जड़े थे, जिसके बाद यह मामला राष्ट्रीय स्तर पर खूब सुर्खियों में रहा।

सीआइडी प्रमुख रहते हुआ था कपूर का अनिल विज के साथ पंगा, बिजली निगमों में किया काफी सुधार

हरियाणा सरकार ने इस विवाद के बाद शत्रुजीत कपूर को बिजली निगमों का चेयरमैन नियुक्त कर दिया। चेयरमैन रहते हुए कपूर ने बिजली विभाग में अभूतपूर्व सुधार किए। उन्होंने न केवल बिजली की चोरी रोकने की दिशा में अहम काम किया, बल्कि बिजली निगमों का घाटा, बिजली की चोरी तथा बिजली का लाइन लास कम करने की दिशा में अहम योगदान दिया है।

यह बात भी सही है कि यदि हरियाणा सरकार बिजली निगमों के कर्ज की गारंटी नहीं लेती तो घाटा कम नहीं होता, लेकिन आज ढ़ाई हजार गांव ऐसे हैं, जहां बिजली के बिल निरंतर भरे जा रहे हैं तथा सरकार द्वारा इन गांवों में 24 घंटे बिजली की सप्लाई का दावा किया जा रहा है।

पांच एचपीएस अधिकारियों को पहले ही परिवहन विभाग में नियुक्तियां दे चुकी सरकार, नए प्रयोगों पर जोर

आइपीएस अधिकारी शत्रुजीत कपूर की परिवहन विभाग के प्रधान सचिव पद पर नियुक्ति के पीछे हरियाणा सरकार की सोच यही है कि इस विभाग में बरसों से पनप रहे भ्रष्टाचार की जड़ पर सीधे चोट की जाए। इसलिए इसकी जिम्मेदारी शत्रुजीत कपूर को सौंपी गई है। हालांकि इस पद पर आइएएस अधिकारियों की ही नियुक्तियां होती रही हैं, लेकिन सरकार ने नया प्रयोग किया है। सरकार के इस तरह के प्रयोग से आइएएस लाबी में अंदर ही अंदर करेंट भी है, लेकिन कोई खुलकर सरकार के फैसले पर अंगुली उठाने का साहस नहीं कर पा रहा है।

हरियाणा सरकार ने शनिवार रात को सात एचसीएस के अलावा पांच एचपीएस अधिकारियों, वन विभाग के दो और रोजगार विभाग के दो अधिकारियों को आरटीए सचिव के पद पर नियुक्तियां दी थीं। एचपीएस अधिकारी मनीष सहगल को अंबाला रोडवेज का महाप्रबंधक नियुक्त करने का पहला प्रयोग किया गया। सोमवार को हुए तबादलों में 1990 बैच के आइपीएस शत्रुजीत कपूर को अनुराग रस्तोगी के स्थान पर परिवहन विभाग का प्रधान सचिव नियुक्त करने संबंधी आदेश जारी हुए। इससे पहले अमिताभ ढिल्लों को खनन एवं भूगर्भ विभाग का महानिदेशक बनाया गया था। कुछ दिन तक सीएमओ में ओपी सिंह भी रहे।

आइपीएस शशांक आनंद बिजली निगम के एमडी

हरियाणा सरकार ने आइपीएस अधिकारी डीआइजी सीआइडी शशांक आनंद को उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम का प्रबंध निदेशक नियुक्त किया है। इस पद पर शत्रुजीत कपूर तैनात थे। यानी आइपीएस को हटाकर इस पद पर आइपीएस अधिकारी को ही जिम्मेदारी सौंपी गई है। शशांक आनंद 2006 बैच के आइपीएस अधिकारी हैं।

आइएफएस सिन्हा होंगे टूरिज्म के प्रधान सचिव

हरियाणा सरकार ने सोमवार को ही एक दूसरा नया प्रयोग किया है। आइएफएस अधिकारी जीएमडीए के एडीशनल सीइओ तथा हिपा गुरुग्राम के एडीशनल डायरेक्टर एमडी सिन्हा को सरकार ने टूरिज्म डिपार्टमेंट का प्रधान सचिव नियुक्त किया है। आइएफएस अधिकारी को आइएएस अधिकारी का पद देने का प्रयोग भी पहली बार हुआ है। सिन्हा के पास हिपा गुरुग्राम के एडीशनल डायरेक्टर का पद भी बना रहेगा।

य‍ह भी पढ़ें: विपक्ष के 'स्पीड ब्रेकरों' से बचकर छलांग मारती चली हरियाणा में BJP-JJP सरकार की गाड़ी


य‍ह भी पढ़ें: नकली देसी घी की बड़ी मंडियां बने हरियाणा के पांच शहर, दिल्‍ली एनसीआर मेें भी होती है आपूर्ति


य‍ह भी पढ़ें: सत्ता के गलियारे से: खट्टे बोल से बुरे फंसे कांग्रेस के पंडित जी, पढ़ें हरियाणा की सियासत की चटपटी खबरें

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021